विदेशी कर्ज में डूबे टॉप 10 देश, भारत का रैंक जानकर हैरान हो जाएंगे

जब भी हमे जरूरत पड़ती है तो हम अपने रिश्तेदारों या दोस्तों से कुछ रूपए कर्ज के तौर पर लेते हैं जो कुछ समय के बाद हम वापस लौटा देते हैं। लेकिन सिर्फ हम आम इंसान हीं नहीं बल्कि एक देश भी दूसरे देशों से या वर्ल्ड बैंक से कर्ज लेते हैं। फर्क सिर्फ इतना होता है कि हमारे द्वारा लिया गया कर्ज कुछ हजार रूपए होता है जबकि देशों के द्वारा लिया गया कर्ज हजारों करोड़ में होता है।

आज के समय में दुनिया के सभी देशों पर थोड़ा-बहुत विदेशी कर्ज जरूर है। सिर्फ हमारा देश भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के लगभग सभी देश विश्व बैंक से कर्ज लेते हैं और एक निश्चित समय पर उसे वापस कर देते हैं। आज हम आपको हद से ज्यादा कर्ज में डूबे 10 देशों के बारे में बताएंगे।


Top 10 Countries in Debt


10) कनाडा (Debt on Canada)

विदेशी कर्ज
Source

इस लिस्ट में दसवें स्थान पर है उत्तरी अमेरिका का देश कनाडा। 99.8 लाख वर्ग किलोमीटर में फैले इस देश की जनसंख्या लगभग 3 करोड़ 80 लाख है। विश्व प्रसिद्ध नाएग्रा फाल्स के लिए मशहूर इस देश की जीडीपी 1.971 ट्रिलियन डॉलर है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि कनाडा का एक्सटर्नल डेब्ट यानि विदेशी कर्ज 2119.1 बिलियन डॉलर है जिसे ट्रिलियन में कन्वर्ट करने पर यह 2.1191 ट्रिलियन डॉलर होगा। इसका मतलब ये हुआ कि कनाडा ने अपनी कुल जीडीपी का 107 प्रतिशत बतौर कर्ज ले रखा है। प्रति व्यक्ति आय की तरह ही कनाडा के लोगों पर प्रति व्यक्ति औसत कर्ज भी 52,300 डॉलर है।

9) स्पेन (Debt on Spain)

विदेशी कर्ज
Source

यूरोपीय देश स्पेन भी विश्व बैंक से कर्ज लेने के मामले में पीछे नहीं है। लगभग 4 करोड़ 75 लाख की जनसंख्या वाले इस देश की जीडीपी $1.440 ट्रिलियन डॉलर है। लेकिन बात करें विदेशी कर्ज की तो स्पेन का एक्सटर्नल डेब्ट 2365.7 बिलियन डॉलर यानि 2.3657 ट्रिलियन डॉलर है। डेब्ट टू जीडीपी रेशियो देखा जाए तो यह 164 प्रतिशत होगा। इसका मतलब है कि स्पेन का एक बच्चा भी 49800 डॉलर के कर्ज में डूबा हुआ है।

इसे भी पढें: कुवैत के बारे में कुछ मजेदार रोचक तथ्य

8) इटली (Debt on Italy)

विदेशी कर्ज
Source

पीसा की मीनार और इटैलियन फास्ट फूड पिज्जा के लिए पूरी दुनिया में मशहूर इटली का क्षेत्रफल लगभग 3 लाख वर्ग किलोमीटर है। लगभग 6 करोड़ की जनसंख्या वाले इस देश की जीडीपी $1.989 ट्रिलियन डॉलर है। जबकि इटली का एक्सटर्नल डेट 2469 बिलियन डॉलर यानि 2.469 ट्रिलियन डॉलर है। इटली ने जीडीपी के मुकाबले 124 प्रतिशत ज्यादा कर्ज ले रखा है जिस कारण वहाँ के प्रत्येक व्यक्ति पर औसतन 41,150 डॉलर का कर्ज है।

7) लक्जमबर्ग (Debt on Luxembourg)

External Debt
Source

प्रति व्यक्ति आय के मामले में नम्बर 1 पर मौजूद यूरोपीय देश लक्जमबर्ग एक बहुत ही छोटा देश है। इस देश का क्षेत्रफल महज 2,586 वर्ग किलोमीटर है जबकि इसकी जनसंख्या भी सिर्फ 6 लाख 26 हजार है। क्षेत्रफल के मामले में यह देश दिल्ली से लगभग दोगुना है। लग्जमबर्ग की जीडीपी $69.453 बिलियन डॉलर है।

जबकि यह देश लगभग 3921.4 बिलियन डॉलर यानि 3.921 ट्रिलियन डॉलर के कर्ज में डूबा हुआ है। लक्जमबर्ग ने जीडीपी के मुकाबले 5,633 प्रतिशत ज्यादा कर्ज ले रखा है। इतना ही नहीं प्रति व्यक्ति आय की तरह ही प्रति व्यक्ति कर्ज के मामले में भी लक्जमबर्ग पहले स्थान पर है। लक्जमबर्ग में पर कैपिटा डेट 65,35,666 डॉलर है।

इसे भी पढें: आइसलैंड के ये रोचक तथ्य जानकर हैरान रह जाएंगे

6) नीदरलैंड्स (Debt on Netherlands)

External Debt
Source

यूरोप के खूबसुरत देशों में से एक नीदरलैँड्स इस लिस्ट में छठे स्थान पर है। नीदरलैंड को अक्सर हॉलैंड के नाम संबोधित किया जाता है एवं सामान्यतः नीदरलैंड के निवासियों तथा इसकी भाषा दोनों के लिए डच शब्द का उपयोग किया जाता है। नीदरलैंड्स का अधिकांश हिस्सा समुद्र तल से नीचे है। सिर्फ 41,543 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल वाले इस देश की जनसंख्या लगभग 1 करोड़ 75 लाख है।

वहीं इसका जीडीपी 914 बिलियन डॉलर है। लेकिन बात करें विदेशी कर्ज की तो यह 4125.7 बिलियन डॉलर यानि 4.125 ट्रिलियन डॉलर है। इस तरह देखा जाए तो नीदरलैंड्स ने अपने जीडीपी से 451 गुना ज्यादा का कर्ज ले रखा है। वहाँ प्रति व्यक्ति कर्ज का औसत 2,35,754 डॉलर है।

5) जापान (Debt on Japan)

External Debt
Source

टेक्नोलॉजी के मामले में पूरी दुनिया में अग्रणी देश जापान कर्ज के मामले में भी ज्यादा पीछे नहीं है। पूर्वी एशिया में मौजूद जापान एक छोटा सा द्वीपीय देश है। इसका क्षेत्रफल 3,77,975 वर्ग किलोमीटर है जबकि इसकी जनसंख्या लगभग 12 करोड़ 60 लाख है। भारत से कहीं छोटा देश होने के बावजूद भी जापान की जीडीपी भारत से कहीं ज्यादा है।

इसे भी पढें: जापान के बारे में ये रोचक बातें नहीं जानते होंगे आप

जापान की जीडीपी $5.413 ट्रिलियन डॉलर है और यह दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी है। हालांकि जापान के ऊपर 4701 बिलियन डॉलर यानि 4.701 ट्रिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज भी है। इस कर्ज का अधिकांश हिस्सा जापान ने अमेरिका से ले रखा है। जीडीपी के मुकाबले कर्ज का रेशियो देखा जाए तो यह 86 प्रतिशत है जबकि जापान का पर कैपिटा डेट 37,300 डॉलर है।

4) जर्मनी (Debt on Germany)

germany city विदेशी कर्ज
Source

इस लिस्ट में चौथे स्थान पर है यूरोपीय देश जर्मनी। दुनिया को मर्सिडीज-बेन्ज, बीएमडब्ल्यू, ऑडी, फॉक्सवोगन, पॉर्स्च, एडिडास जैसे बेहतरीन ब्रांड्स इसी देश की देन है। 3,57,022 वर्ग किलोमीटर में फैले जर्मनी की जनसंख्या लगभग 8 करोड़ 35 लाख है। यह दुनिया की चौथी सबसे बड़ी इकोनॉमी है और इसका जीडीपी 3.863 ट्रिलियन डॉलर है।

लेकिन बात करें एक्सर्टनल डेट की तो जर्मनी पर कुल 5731.5 बिलियन डॉलर यानि 5.731 ट्रिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज है। जर्मनी ने अपने जीडीपी के मुकाबले 148 प्रतिशत ज्यादा का कर्ज ले रखा है जिस कारण जर्मनी के प्रत्येक व्यक्ति पर औसतन 68,640 डॉलर का कर्ज है।

इसे भी पढें: दुनिया के 5 सबसे कीमती तरल पदार्थ, नम्बर 1 है चौंकाने वाला

3) फ्रांस (Debt on France)

External Debt
Source

यूरोपीय देश फ्रांस इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर है। फ्रांस की राजधानी पेरिस को दुनिया के सबसे खुबसूरत शहरों में से एक माना जाता है वहीं यहाँ मौजूद ऐफिल टॉवर लोगों के आकर्षण का केन्द्र है और इसे देखने के लिए पूरी दुनिया से टूरिस्ट आते हैं। 6,40,679 वर्ग किलोमीटर में फैले फ्रांस की जनसंख्या 6 करोड़ 70 लाख है जबकि इसका जीडीपी $2.707 ट्रिलियन डॉलर है।

फ्रांस के ऊपर विदेशी कर्ज 6651.9 बिलियन डॉलर यानि 6.651 ट्रिलियन डॉलर है। बात करें जीडीपी टू डेट रेशियो की तो फ्रांस ने अपने जीडीपी से 245 प्रतिशत ज्यादा का कर्ज ले रखा है। जिस कारण फ्रांस के प्रत्येक व्यक्ति पर औसतन 99,282 डॉलर का कर्ज है।

2) यूनाइटेड किंगडम (Debt on United Kingdom)

विदेशी कर्ज
Source

एक समय पूरी दुनिया पर राज करने वाला यूरोपीय देश ग्रेट ब्रिटेन यानि यूनाइटेड किंगडम इस लिस्ट में दूसरे स्थान पर है। सिर्फ 2,42,495 वर्ग किलोमीटर में फैले इस देश की जनसंख्या 6 करोड़ 80 लाख है। वहीं इसका जीडीपी 2.744 ट्रिलियन डॉलर है जो इसे दुनिया की 6ठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाता है। इसके बावजूद यह दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा कर्ज में डूबा हुआ देश है।

इसे भी पढें: ये हैं दुनिया के 10 सबसे अमीर देश, भारत है इतने नम्बर पर

ब्रिटेन पर 8613 बिलियन डॉलर यानि 8.613 ट्रिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज है। ब्रिटेन ने अपने जीडीपी का 313 प्रतिशत बतौर कर्ज ले रखा है। एक समय दुनिया के सभी समृद्ध देशों को लूट कर अपना खजाना भरने वाले ब्रिटेन के प्रत्येक व्यक्ति पर औसतन 1,26,661 डॉलर का कर्ज है।

1) संयुक्त राज्य अमेरिका (Debt on United States of America)

External Debt
Source

दुनिया का सबसे शक्तिशाली और अमीर देश अमेरिका कर्ज के मामले में भी नम्बर 1 पर है। इसमे कोई शक नहीं है कि अमेरिका एक विकसित देश है लेकिन ये भी एक कड़वी सच्चाई है कि उसने अपनी कुल जीडीपी से कहीं ज्यादा का कर्ज ले रखा है। 37,96,742 वर्ग किलोमीटर में फैले अमेरिका की जनसंख्या लगभग 32 करोड़ 85 लाख है।

अमेरिका दुनिया की सबसे बड़ी इकॉनमी है। इसकी जीडीपी $22.321 ट्रिलियन डॉलर है लेकिन साथ ही अमेरिका के ऊपर 25.4 ट्रिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज भी है जो उसके जीडीपी का 114 प्रतिशत है। बात करें प्रति व्यक्ति औसतन विदेशी कर्ज की तो प्रत्येक अमेरिकी नागरिक के ऊपर 77,321 डॉलर का कर्ज है।

इसे भी पढें: ये हैं दुनिया के 10 सबसे अजीब इंटरनेशनल बॉर्डर

भारत (Total debt on India)

Debt on India
Source

अब बात करते हैं अपने प्यारे देश भारत की। 30 जून 2020 को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार भारत के ऊपर मार्च 2020 तक 558.5 बिलियन डॉलर का कर्ज था जो मार्च 2019 के मुकाबले 15.4 बिलियन डॉलर ज्यादा है। हालांकि दिसंबर 2019 में भारत पर 563.9 बिलियन डॉलर का कर्ज था। इसका सीधा सा मतलब है कि भारत के विदेशी कर्ज में 5.4 बिलियन डॉलर की कमी आई है।

भारत की जीडीपी $3.202 ट्रिलियन डॉलर है और हमारा देश दुनिया की पाँचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। भारत का जीडीपी टू डेट रेशियो 17.4 प्रतिशत है जबकि प्रत्येक भारतीय पर औसतन 424 डॉलर यानि 31,880 रूपए का विदेशी कर्ज है। इसके अलावा सबसे ज्यादा कर्ज लेने वाले देशों की लिस्ट में भारत 21वें नम्बर पर है।

चीन (Debt on China)

Debt on China
Source

बात करें हमारे पड़ोसी देश चीन की तो सबसे ज्यादा कर्ज लेने वाले देशों की लिस्ट में चीन 11वें स्थान पर है। चीन 15.269 ट्रिलियन डॉलर के साथ दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है लेकिन साथ ही चीन के ऊपर 2094.6 बिलियन डॉलर यानि 2.094 ट्रिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज है जो उसके जीडीपी का 13.71 प्रतिशत है। इसके अलावा प्रत्येक चीनी व्यक्ति के ऊपर 1496 डॉलर का विदेशी कर्ज है।

पाकिस्तान (Debt on Pakistan)

Debt on Pakistan
Source

वहीं हमारे दूसरे पड़ोसी देश पाकिस्तान की जीडीपी 284.2 बिलियन डॉलर है जबकि इसके ऊपर 109.9 बिलियन डॉलर का विदेशी कर्ज है। यह पाकिस्तान के कुल जीडीपी का 38.7 प्रतिशत है। इसके बावजूद प्रत्येक पाकिस्तानी 517 डॉलर यानि 85890 पाकिस्तानी रूपए के विदेशी कर्ज में डूबा हुआ है। सबसे ज्यादा कर्ज लेने वाले देशों की लिस्ट में पाकिस्तान 45वें नम्बर पर है।

इस Article में दिए गए सारे आंकड़े 30 जून 2020 तक के हैं। अभी कोविड-19 के कारण पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था में उथल-पुथल मची हुई है और बेरोजगारी बढ रही है। इसलिए इस साल के अंत तक सभी देशों के कर्ज में भारी बढोत्तरी देखने को मिले तो कोई हैरानी नहीं होगी।


आपको यह जानकारी कैसी लगी कमेंट कर के जरूर बताइएगा। Article पसंद आया हो तो इसे लाइक और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।ऐसी हीं खबर पढते रहने के लिए हमारे न्यूजलेटर को सब्सक्राइब जरूर करें और लगातार अपडेट पाने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें।



इसे भी पढें:

Leave a Reply

India vs Pakistan Live Match Free mein Kaise dekhen | T20 World Cup Live Streaming App धनतेरस पर करें ये 1 उपाए, होने लगेगी धन की बारिश धनतेरस पर भूलकर भी नहीं खरीदनी चाह‍िए ये वस्‍तुएं, होता है अशुभ किडनी खराब होने के लक्षण और उपाय | Kidney Damage Symptoms in Hindi
%d bloggers like this: