एशिया की 10 सबसे बड़ी मार्केट कैपिटल वाली निजी कम्पनियां

हाल ही में कुछ दिन पहले 10 लाख करोड़ मार्केट कैपिटल के साथ मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। ऐसे में हमे लगा कि हो सकता है रिलायंस एशिया की सबसे बड़ी मार्केट कैपिटल वाली कंपनी बन गई हो। इसलिए हमने इन्टरनेट पर एशिया की बड़ी कंपनियों से संबंधित आंकड़े जुटाए और जो नतीजे आए वो चौंकाने वाले थे। आइए जानते हैं एशिया के टॉप 10 में कौन-कौन सी कंपनियां शामिल हैं।


Biggest Companies of Asia


10) चाइना मोबाइल लिमिटेड, हांगकांग

मार्केट कैपिटल
Source

इस लिस्ट में दसवें स्थान पर है हांगकांग की कम्पनी चाइना मोबाइल लिमिटेड। 1 दिसंबर 2019 तक इस कंपनी का मार्केट कैपिटल 159.50 अरब डॉलर (11.32 लाख करोड़ रुपये) था। इस कम्पनी का बिजनेस हांगकांग और चीन के अलावा पाकिस्तान तथा ब्रिटेन में भी फैला हुआ है।

9) अग्रीकल्चर बैंक ऑफ चाइना, चीन

मार्केट कैपिटल
Source

यह चीन के टॉप 4 बैंकों में से एक है। इसकी स्थापना 1951 में हुई थी। 1 दिसंबर तक इसका मार्केट कैप 177.91 अरब डॉलर (12.63 लाख करोड़ रुपये) था। इस बैंक के ब्रांचेज चीन और हांगकांग के अलावा लंदन, टोक्यो, न्यूयॉर्क, सिडनी और सियोल जैसे शहरों में भी है।

8) चाइना कंस्ट्रक्शन बैंक, चीन

मार्केट कैपिटल
Source

मार्केट कैप के हिसाब से चाइना कंस्ट्रक्शन बैंक चीन का दूसरा और एशिया का आठवां सबसे बड़ा बैंक है। इसका मार्केट कैपिटल 207 अरब डॉलर (14.7 लाख करोड़ रुपये) है। सिर्फ चीन में ही इसके 13,629 ब्रांच है। इसके अलावा बार्सिलोना, फैंकफर्ट, न्यूयॉर्क, सिंगापुर, टोक्यो, मेलबर्न, जोहांसबर्ग इत्यादि शहरों में भी इसके ब्रांचेज मौजूद हैं।

इसे भी पढें: बिहार के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप

7) क्वेइचो मौताई, चीन

market capital
Source

इस लिस्ट में सातवे स्थान पर भी चीन की ही कंपनी का दबदबा है। क्वेइचो मौताई चीन की लिकर कंपनी है। इसका मार्केट कैप 210.70 अरब डॉलर (14.96 लाख करोड़ रुपये) है।

6) पिंग अन इन्श्योरेन्स, चीन

Market capital
Source

अभी तक इस लिस्ट को देखकर आपको यही लग रहा होगा कि हम एशिया की टॉप 10 कंपनी के बारे में बता रहे हैं या चाइना की। वैसे तो ये लिस्ट एशिया के टॉप 10 की ही है लेकिन हमे ये मानना पड़ेगा कि चाइनीज कंपनियाँ, इंडियन कंपनियों से कहीं ज्यादा आगे है। पिंग अन इंश्योरेंस का मार्केट कैपिटल 217.02 अरब डॉलर (15.4 लाख करोड़ रुपये) है। विश्व के लगभग सभी बड़े देशों में इस कंपनी के ब्रांचेज मौजूद है।

5) सैमसंग, दक्षिण कोरिया

मार्केट कैपिटल
Source

सैमसंग के नाम से तो आप सभी वाकिफ ही हैं। दक्षिण कोरिया की ये कंपनी इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम के मामले में अपना लोहा मनवा चुकी है। इसका मार्केट कैप 259.80 अरब डॉलर (18.44 लाख करोड़ रुपये) है। सैमसंग के भी लगभग सभी बड़े देशों में ब्रांचेज है।

4) ताइवान सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, ताइवान

Biggest company
Source

टीएसएमसी यानि ताइवान सेमीकंडक्टर ताइवान की ही नहीं बल्कि दुनिया की भी सबसे बड़ी सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। इसका मार्केट कैपिटल 264.57 अरब डॉलर (18.78 लाख करोड़ रुपये) है। एप्पल, क्वालकॉम, एएमडी, वनप्लस, आसुस इत्यादि बड़ी कंपनियां भी टीएसएमसी के कस्टमर लिस्ट में शामिल हैं।

इसे भी पढें: गाय के बारे में 10 रोचक तथ्य, जो गौ-रक्षक भी नहीं जानते होंगे

3) इंडस्ट्रियल एंड कॉमर्शियल बैंक ऑफ चाइना, चीन

Biggest companies
Source

इंडस्ट्रियल एंड कॉमर्शियल बैंक ऑफ चाइना कस्टमर, एम्प्लॉई और टोटल एस्सेट्स के मामले में चीन हीं नहीं बल्कि विश्व का भी सबसे बड़ा बैंक है। इसका मार्केट कैपिटल 289.17 अरब डॉलर (20.53 लाख करोड़ रुपये) है।

2) टेन्सेंट गेम्स, चीन

biggest companies
Source

दुनिया का सबसे लोकप्रिय वीडियो गेम पबजी को दक्षिण कोरियन कंपनी ब्लूहोल ने डेवलप किया है लेकिन इसका मल्टीप्लेयर मोड बिना टेन्सेन्ट गेम्स की मदद के डेवलप करना संभव नहीं था। एक लाइन में कहा जाए तो पबजी गेम को बनाने वाली टीम में टेन्सेन्ट गेम्स की टीम भी शामिल थी। टेन्सेन्ट दुनिया की सबसे बड़ी गेमिंग कंपनी है। इसके अलावा चाइना की सबसे बड़ी इन्स्टेंट मैसेजिंग सर्विस वीचैट को भी टेन्सेंट ने ही डेवलप किया है। इसका मार्केट कैपिटल 410 अरब डॉलर (29.11 लाख करोड़ रुपये) है।

1) अलीबाबा, चीन

मार्केट कैपिटल
Source

इस लिस्ट में पहले स्थान पर है अलीबाबा ग्रुप। चीन की सबसे बड़ी और विश्व की दूसरी सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा का मार्केट कैपिटल 536 अरब डॉलर (38.05 लाख करोड़ रुपये) है। अलीबाबा का दबदबा सिर्फ ई-कॉमर्स ही नहीं बल्कि टेक्नोलॉजी, रिटेल, इंटरनेट इत्यादि फील्ड में भी है। अलीबाबा के फाउंडर जैक मा द्वारा शुरू किया गया मोबाइल पेमेंट सर्विस अलीपे 87 करोड़ यूजर्स के साथ दुनिया का नम्बर 1 पेमेंट प्लेटफॉर्म भी है।

आप हैरान हो रहे होंगे कि इस लिस्ट में रिलायंस का नाम क्यों नहीं है तो हम आपको बताना चाहेंगे कि मार्केट कैप के हिसाब से दुनिया तो छोड़िए एशिया की टॉप 10 कंपनियों में भी रिलायंस तो क्या कोई भारतीय कंपनी तक शामिल नहीं है। एशिया में ही रिलायंस का स्थान 13वां है। बहरहाल हम उम्मीद करते हैं कि अगले साल तक रिलायंस भी एशिया की टॉप 10 कंपनियों में शामिल हो जाएगी।

Note: इस वीडियो में डॉलर का एक्सचेंज रेट 1 अमेरिकी डॉलर = 71 रूपए रखा गया है।


ऐसी हीं खबर पढते रहने के लिए हमारे न्यूजलेटर को सब्सक्राइब जरूर करें और लगातार अपडेट पाने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें।



इसे भी पढें:

Leave a Reply

India vs Pakistan Live Match Free mein Kaise dekhen | T20 World Cup Live Streaming App धनतेरस पर करें ये 1 उपाए, होने लगेगी धन की बारिश धनतेरस पर भूलकर भी नहीं खरीदनी चाह‍िए ये वस्‍तुएं, होता है अशुभ किडनी खराब होने के लक्षण और उपाय | Kidney Damage Symptoms in Hindi
%d bloggers like this: