सबसे अधिक नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ रेट वाले 10 देश, नम्बर 1 का नाम चौंकाने वाला

Photo of author

कोविड 19 के कारण पूरी दुनिया लॉकडाउन का सामना कर रही है जिस कारण सभी जगह काम-धंधे ठप्प हो गए हैं। बेरोजगारी तेजी से बढ रही है और प्रॉडक्शन कम हो रहा है और कंपनियाँ बंद हो रही हैं। ऐसे में जब काम होंगे हीं नहीं तो लोगों और देश की आर्थिक हालत खराब होनी ही है। इकॉनमी डाउन होने का सीधा असर जीडीपी ग्रोथ पर पड़ता है। जीडीपी ग्रोथ थम जाएगी और माइनस में चली जाएगी।

आज हालात ये हो गए हैं कि भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के कई देश नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ से जूझ रहे हैं। वैसे तो दुनिया के लगभग सभी देश कोरोना के कारण बुरे दौर से गुजर रहे हैं लेकिन हम आपको दुनिया की दस सबसे बड़ी जीडीपी वाले देशों पर कोरोना के नेगेटिव असर के बारे में बताएंगे।

सबसे ज्यादा नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ वाले टॉप 10 देश

10) चीन (China)

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ
Source

दुनिया की दस सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों में जीडीपी ग्रोथ पर कोरोना के असर के मामले में चीन दसवें नम्बर पर है। आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस चीन से कोरोना फैला आज उसी देश में सब कुछ ठीक हो चुका है। आज पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है जबकि चीन में जन-जीवन फिर से सामान्य हो चुका है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण है अप्रैल से जून तक की जीडीपी का ग्रोथ।

इसे भी पढें: चीन के ये रोचक तथ्य शायद आप भी नहीं जानते होंगे

चीन की जीडीपी 15.269 ट्रिलियन डॉलर है और यह विश्व की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। चीन से कोरोना की शुरूआत होने के बावजूद भी इस देश की जीडीपी पर इसका असर ना के बराबर पड़ा है। अप्रैल से जून की तिमाही में चीन की जीडीपी ग्रोथ 3.2 प्रतिशत की रफ्तार से बढी है जो बताता है कि चीन इस महामारी से उबर चुका है। हालांकि जनवरी से मार्च की तिमाही में चीन की जीडीपी ग्रोथ माइनस -6.8 प्रतिशत थी जो उसका अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन भी है।

9) संयुक्त राज्य अमेरिका (United States of America)

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ
Source

इस लिस्ट में नवें नम्बर पर है दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश संयुक्त राज्य अमेरिका। यह देश कोविड 19 से सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहाँ कोरोना पेशेंट्स का आंकड़ा 67 लाख से भी ज्यादा है। बात करें अमेरिका की जीडीपी की तो यह 22.321 ट्रिलियन डॉलर है लेकिन कोविड 19 के कारण अप्रैल से जून 2020 की तिमाही में अमेरिका की जीडीपी ग्रोथ -9.1 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे गिरी है जो अमेरिका का अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन है।

8) जापान (Japan)

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ
Source

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ के मामले में आठवे नम्बर पर है जापान। दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था जापान की जीडीपी 5.413 ट्रिलियन डॉलर है लेकिन अप्रैल से जून 2020 के क्वार्टर में जापान के जीडीपी के नीचे गिरने की रफ्तार -10.1 प्रतिशत रही है। हालांकि इस साल की शुरूआत से ही जापान की जीडीपी को झटके लगने शुरू हो गए थे। जनवरी से मार्च की तिमाही में जापान का जीडीपी ग्रोथ -1.9 रहा था।

इसे भी पढें: जापान के बारे में ये रोचक बातें नहीं जानते होंगे आप

7) जर्मनी (Germany)

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ
Source

भले ही जर्मनी नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ की इस लिस्ट में सातवें स्थान पर है लेकिन असल में यह दुनिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। जर्मनी की जीडीपी 3.982 ट्रिलियन डॉलर है। लेकिन दूसरे बड़े देशों की तरह इस देश पर भी कोविड महामारी का असर पड़ा है और इसकी तेजी से बढ रही जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार न सिर्फ थमी है बल्कि पॉजिटिव से नेगेटिव में चली गई है। अप्रैल से जून की तिमाही में जर्मनी की जीडीपी ग्रोथ -11.3 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे आई है। हालांकि जनवरी से मार्च की तिमाही में भी जर्मनी की जीडीपी -2.2 प्रतिशत की नेगेटिव रफ्तार से नीचे जा रही थी।

6) ब्राजील (Brazil)

नेगेटिव जीडीपी ग्रोथ
Source

दक्षिण अमेरिकी देश ब्राजील दुनिया की 9वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। ब्राजील की जीडीपी 1.893 ट्रिलियन डॉलर है। जनवरी से मार्च के क्वार्टर में -1.4 की रफ्तार से नीचे जा रही ब्राजील की जीडीपी ग्रोथ कोविड के कारण और भी तेजी से नीचे जाने लगी। यही कारण है कि अप्रैल से जून की तिमाही में ब्राजील की जीडीपी ग्रोथ -11.4 प्रतिशत थी जो अब तक का उसका सबसे खराब ग्रोथ है।

इसे भी पढें: अमेरिका के बारे में रोचक तथ्य | America Facts in Hindi

5) कनाडा (Canada)

Negative GDP Growth
Source

भले ही कनाडा दुनिया की दसवीं सबसे बड़ी जीडीपी वाला देश है लेकिन अप्रैल से जून की तिमाही में पाँचवा सबसे निगेटिव ग्रोथ वाल देश भी बन गया है। कनाडा में जनवरी से मार्च तक हालात काबू में थे लेकिन अप्रैल से जून की रिपोर्ट बताती है कि कनाडा की जीडीपी ग्रोथ -13 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे गई है। यह कनाडा की भी अब तक की सबसे खराब नेगेटिव ग्रोथ है।

4) इटली (Italy)

Negative GDP Growth
Source

जनवरी से मार्च के बीच चीन के बाद अगर कोविड का दूसरा सबसे खतरनाक शिकार बना था तो वो था इटली। कोरोना ने विश्व की बेस्ट हेल्थकेयर फैसिलिटी वाले इस देश के हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर की कमर तोड़ कर रख दी थी। 2.013 ट्रिलियन डॉलर के साथ इटली दुनिया की आठवी सबसे बड़ी जीडीपी वाला देश है लेकिन नेगेटिव ग्रोथ के मामले में यह चौथे नम्बर पर है। अप्रैल से जून के बीच में इटली की जीडीपी -17.7 की रफ्तार से नीचे गई है। हालांकि इसकी शुरूआत जनवरी से मार्च के क्वार्टर में ही हो गई थी जब इटली की जीडीपी -5.5 प्रतिशत हो गई थी।

इसे भी पढें: आइसलैंड के ये रोचक तथ्य जानकर हैरान रह जाएंगे

3) फ्रांस (France)

Negative GDP Growth
Source

दुनिया की छठी सबसे बड़ी जीडीपी फ्रांस को भी कोरोना की मार पड़ी है। 2.771 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाले इस देश की जीडीपी जनवरी से मार्च के बीच में -5.7 प्रतिशत थी लेकिन अप्रैल से जून के बीच यह -18.9 प्रतिशत की रफ्तार से तेजी से नीचे जाने लगी। जाहिर सी बात है कि यह फ्रांस का भी सबसे खराब जीडीपी ग्रोथ है।

2) यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom)

Negative GDP Growth
Source

सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के मामले में सातवें पायदान पर मौजूद यूनाइटेड किंगडम सबसे नेगेटिव ग्रोथ के मामले में दूसरे नम्बर पर मौजूद है। ब्रिटेन की जीडीपी 2.744 ट्रिलियन डॉलर है लेकिन अप्रैल से जून की तिमाही में इसने अपना अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन किया है। इस तिमाही में ब्रिटेन की जीडीपी ग्रोथ -21.7 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे गई है। हालांकि इसकी शुरूआत भी जनवरी से मार्च के क्वार्टर में ही हो गई थी जब यूके की जीडीपी की ग्रोथ रेट -1.7 प्रतिशत थी।

इसे भी पढें: पाकिस्तान के 20 अजीब रोचक तथ्य जो शायद ही आप जानते होंगे

1) भारत (India)

Negative GDP Growth
Source

इस लिस्ट में पहले स्थान पर है हमारा प्यारा देश भारत। हम हर फील्ड में अपने देश को पहले स्थान पर देखना चाहते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी फील्ड है जहाँ हम चाहेंगे कि हमारा देश सबसे आखिरी पायदान पर हो और यह फील्ड भी उन्ही में से एक है। भारत दुनिया की पाँचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और इसकी जीडीपी 3.202 ट्रिलियन डॉलर है लेकिन कोरोना के कारण लम्बे समय तक हुए कम्प्लीट लॉकडाउन का हमारे देश की जीडीपी ग्रोथ पर बहुत बुरा असर पड़ा है।

पहले से ही संकट के दौर से गुजर रही भारत की अर्थव्यवस्था जनवरी से मार्च तक -3.1 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे जा रही थी लेकिन लॉकडाउन में सारी आर्थिक गतिविधियां बंद हो जाने के कारण जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार -23.9 प्रतिशत की तेजी से नीचे जाने लगी। कहने की जरूरत नहीं है कि यह भारत का अब तक का सबसे खराब ग्रोथ है। अभी वर्तमान स्थिति को देखते हुए कहीं से भी जीडीपी के प्लस में आने की उम्मीद नहीं है।

मकाउ (Macau)

Lowest GDP Growth
Source

ये तो थी दुनिया की दस सबसे बड़ी जीडीपी वाले देशों की हालत लेकिन अगर हम बिना कंडीशन लगाए ग्लोबल स्तर पर जीडीपी की नेगेटिव ग्रोथ चेक करें तो सबसे बुरी हालत चीन प्रशासित क्षेत्र मकाउ की है। मकाउ भी हांगकांग की तरह ही एक देश है जिसका अपना संविधान है लेकिन चीन ने उसे अपने अंडर में कर रखा है। मकाउ की जीडीपी 54.545 बिलियन डॉलर है लेकिन जनवरी से मार्च तक उसका ग्रोथ रेट -48.7 प्रतिशत था जबकि अप्रैल से जून तक सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए -67.8 प्रतिशत की रफ्तार से नीचे गई है।

पेरू (Peru)

Lowest negative GDP Growth
Source

इसके अलावा दक्षिण अमेरिकी देश पेरू का भी जीडीपी ग्रोथ अप्रैल से जून के बीच में -30.2 प्रतिशत रहा है। हालांकि पेरू एक छोटा देश है और इसकी जीडीपी महज 240.175 बिलियन डॉलर है।


ऐसी हीं खबर पढते रहने के लिए हमारे न्यूजलेटर को सब्सक्राइब जरूर करें और लगातार अपडेट पाने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें।



इसे भी पढें:

Leave a Reply

%d bloggers like this: