Success Mantra: आत्मविश्वास कमजोर पड़ने लगे तो काम आएंगी ये 5 बातें

Photo of author

aatmvishavas badhane ka mantra आत्मविश्वास

अक्सर व्यक्ति अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत करता है, लेकिन जब वह अपने लक्ष्य के करीब पहुंचने वाला होता है तो ठीक उसी समय उसका आत्मविश्वास डगमगाने लगता है, उसका खुद पर से भरोसा कम होने लगता है। जो कई बार उसकी असफलता का कारण भी बन जाता है। ऐसे में जब कभी आपके साथ कुछ ऐसा होने लगे तो अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए ध्यान रखें सफलता पाने के ये 5 मंत्र।


आत्मविश्वास बढाने के 5 मूल मंत्र


1) दूसरों के साथ तुलना करने की न करें भूल- 

आत्मविश्वास
Source

हमारी सबसे गंदी आदत होती है कि हम हमेशा अपनी या अपने बच्चों की तुलना दूसरों से करते हैं। हमेशा इस बात को ध्यान रखें कि कभी भी दो लोगों की जीवन यात्रा एक जैसी नहीं हो सकती है। आप नहीं जानते कौन अपने जीवन में क्या झेलकर आ रहा है। याद रखें हर व्यक्ति की अपनी-अपनी क्षमता होती है इसलिए दूसरों के साथ अपनी तुलना करके अपने लक्ष्य और महत्व को कम करने की गलती न करें।

इसे भी पढें: Success Mantra: जीवन में सफलता हासिल करना चाहते हैं तो अपनाएं कामयाब लोगों की ये 5 आदतें

2) सेहत का रखें ध्यान- 

आत्मविश्वास
Source

अक्सर ऐसा होता है कि अपने लक्ष्य को पाने के लिए इंसान इस कदर उसमे जुट जाता है कि उसे अपनी सेहत का कोई ख्याल ही नहीं रहता है। ऐसे में वह ऐन सफलता के मौके पर बीमार होकर असफलता को गले लगा लेता है। हमेशा याद रखें कोई भी व्यक्ति अपने लक्ष्य को तभी हासिल कर सकता है जब वह एक सेहतमंद शरीर का स्वामी हो। आप कितने ही ज्ञानी क्यों न हो अगर आप हमेशा बीमार रहते हैं तो आप चाहते हुए भी अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकते हैं। याद रखें फिट व्यक्ति हमेशा आत्मविश्वास से भरा हुआ रहता है।

3) सराहना और आलोचना दोनों को गंभीरता से लेने की गलती न करें-

आत्मविश्वास
Source

मानव अपने स्वभाव की वजह से हमेशा  दूसरों से अपनी तारीफ ही सुनना पसंद करता है लेकिन तारीफों के पीछे छुपे कारणों को समझना बेहद जरूरी है। अगर कोई बहुत ज्यादा तारीफ करता है तो आपको सावधान होने की जरूरत है क्योंकि हद से ज्यादा तारीफ आपके अंदर अहंकार पैदा कर देगा और आप अपने लक्ष्य से भटक जाएंगे।

इसे भी पढें: Motivational: अगर आप भी जिन्दगी से परेशान हैं तो ये जरुर पढ़ें

उसी तरह अगर कोई आपकी आलोचना करता है तो उसको पॉजिटिव तौर पर लें और आलोचना में बताई गई कमी को अपने अंदर ढूँढ कर दूर करने का प्रयास करें। समय-समय पर खुद अपना मूल्याकंन करके अपनी प्रतिभा को निखारते रहें तभी आप सफलता के शिखर पर ज्यादा समय तक टिक पाएंगे।

4) गलतियों से सीखें –

Learn from mistakes
Source

गलती हर मनुष्य से होती है। जो गलती नहीं करता है वो कभी नहीं सीखता है। आप भी अपनी गलतियों से सीखें न कि उन्हें खुद पर हावी होने दें। अगर आप हमेशा अपनी गलतियों के बारे में सोचेंगे, तो आपका आत्मविश्वास डगमगाने लगेगा और आप मंजिल पर पहुँचने से पहले ही हार जाएंगे।

5) बीते बुरे दिनों से लें आगे बढ़ने का सबक-

Learn from past
Source

हर इंसान के जीवन में अच्छे और बुरे दिन जरूर आते हैं। मनुष्य का स्वभाव है कि वो कभी भी अपने बुरे दिन याद नहीं करना चाहता लेकिन जब कभी आपका आत्मविश्वास डगमगाने लगे, तो आप अपने बुरे दिनों में किए हुए संघर्ष को याद करके उनसे आगे बढ़ने का सबक ले सकते हैं। ऐसा करने से आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा।


ऐसी हीं खबर पढते रहने के लिए हमारे न्यूजलेटर को सब्सक्राइब जरूर करें और लगातार अपडेट पाने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें।



इसे भी पढें:

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: