क्या आपको भी सामान्य से अधिक पसीना आता है तो इसे जरूर पढें

हम सभी को पसीना आता है। पसीना आना एक स्वाभाविक क्रिया है और गर्मियों के मौसम में पसीना आना स्वस्थ शरीर की निशानी है। एक तरह से कहा जाए तो हमारे अच्छे सेहत के लिए पसीना निकलना बहुत जरूरी है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हे सामान्य से बहुत अधिक पसीना आता है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो आपको इस पर ध्यान देने की बहुत जरूरत है।

पसीना आना
Source

शरीर के अन्दर चल रही गड़बड़ियों के कारण भी सामान्य से अधिक पसीना आने लगता है। इसके लिए डिहाइड्रेशन स्वेट ग्लैंड में गड़बड़ी, हार्मोनल बदलाव, ज्यादा मसालेदार खाना, अधिक दवाई खाना, मौसम और मोटापा जैसी परिस्थितियां जिम्मेदार हो सकती हैं। ऐसी स्थिति को हाइपरहाइड्रोसिस भी कहा जाता है।

हमें पसीना क्यों आता है?

हमारे शरीर का तापमान 98,6 डिग्री फॉरेनहाइट होता है जब हमारे शरीर का तापमान बढने लगता है तो हमारे शरीर का सिस्टम इसे ठंडा करने के लिए पसीने निकालना शुरू कर देता है। हमारे शरीर में लगभग 25 लाख स्वेट ग्रंथिया पाई जाती है। ये ग्रंथियां शरीर के अंदर से पसीना निकालकर हमारे शरीर को ठंडा करने का काम करती हैं। एक तरह से कहा जाए तो ये शरीर के लिए एयरकंडीशन का काम करती हैं।

पसीना आना
Source

पसीने के हवा में सूखने से ठंडक पैदा होती है और इससे शरीर का तापमान फिर से सामान्य हो जाता है। हालांकि कई बार अन्य कारणों जैसे चिंता और तनाव के चलते भी त्वचा से पसीना निकलता है। लेकिन अगर सामान्य से अधिक पसीना आता है तो ये हाइपर्हाइड्रोसिस के लक्षण हैं और ऐसी स्थिति में व्यक्ति को तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए और अपना उचित इलाज कराना चाहिए।

इसे भी पढें: पुराने से पुराने कब्ज को दूर करने के लिए अपनाएं ये घरेलू और आयुर्वेदिक उपाए

हृदय संबंधी समस्या का संकेत

अगर आपको बिना किसी काम और एक्‍सरसाइज के सामान्‍य से अधिक पसीना आता है तो यह हृदय की समस्याओं की पूर्व चेतावनी के संकेत भी हो सकते हैं। दरअसल अवरुद्ध धमनियों के माध्यम से खून को दिल तक पंप करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। जिससे शरीर को अतिरिक्त तनाव में शरीर के तापमान को सामान्‍य बनाए रखने के लिए अधिक पसीना आता है। अगर आपको बहुत अधिक पसीना आता है और चिपचिपी त्वचा का अनुभव होता है तो तुरंत अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

किसी भी तरह की बीमारी चाहे वो छोटी हो या बड़ी उसे नजरअंदाज करने पर बाद में मुसीबत हो सकती है। इसके अलावा हमेशा अच्छे डॉक्टर को हीं दिखाएं किसी भी झोलाछाप डॉक्टर या नीम-हकीम के चक्कर में न पड़ें।

इसे भी पढें:

loading…


Leave a Reply