क्या आप जानते हैं ट्रेन के आखिरी बोगी पर लिखे ‘X’ के निशान का मतलब


हम सभी ने अपने जीवन में कभी न कभी ट्रेन से सफर जरूर किया होगा। यहाँ तक कि किसी रिश्तेदार या दोस्त को विदा करने भी रेलवे स्टेशन जरूर गए होंगे। आप सभी ने ट्रेन की आखिरी बोगी पर एक क्रॉस (X) का निशान जरूर देखा होगा। सामान्य तौर पर इसे साधारण बात समझ कर ज्यादातर लोगों ने इस पर ध्यान नही दिया होगा।



हालांकि कुछ खोजी किस्म के लोगों के मन में ये सवाल जरूर उठते रहता है कि आखिर ट्रेन की सबसे लास्ट बोगी पर ये निशान क्यों होता है? क्या ये रेलवे का कोई कोड है या किसी प्रकार का कोई सिग्नल है? इस तरह के सवाल कुछ लोगों के मन में हमेशा हीं उठते रहते हैं। आज हम आपको इस बारे में बताएंगे कि हर ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर ऐसा निशान क्यों होता है।


आखिरी बोगी
Source

दरअसल यह रेलवे का एक तरह का कोड है जिसे देखकर ट्रेन और रेलवे स्टेशन के कर्मचारियों को ये पता चल सके कि पूरी तरह से ट्रेन जा चुकी है। रेलवे अपने हर ट्रेन के लिए बोगी संख्या निर्धारित करता है। सभी बोगी ट्रेन में लगा दिए जाने के बाद अंतिम बोगी जिस पर एक्स का निशान बना होता है, लगाया जाता है। इस तरह रेलवे कर्मचारी पूरी तरह से आश्वस्त हो जाते हैं कि ट्रेन में पहले से निर्धारित किए गए डिब्बे हीं लगे हैं और कोई डिब्बा यार्ड में नहीं रह गया है।

इसे भी पढें: अब ट्रेन में मिलेगा कन्फर्म टिकट, जानिए 1 जूलाई से रेलवे में कौन-कौन से नियम बदल रहे हैं

इसके अलावा भी होते हैं कई निशान

आखिरी बोगी
Source

अगर आपने ट्रेन के अंतिम डिब्बे को ध्यान से देखा होगा तो आपने पाया होगा कि एक्स (X) के निशान के अलावा वहां एक बिजली का लैंप भी लगा होता है जो हर थोड़ी देर बाद चमकते रहता है। पुराने समय में यह लैंप तेल से चलाया जाता था लेकिन अब यह बिजली से चलता है। इसके अलावा ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर एक बोर्ड लटका हुआ होता है जिस पर अंग्रेजी में LV लिखा होता है।


काले या सफेद रंग के इस बोर्ड पर लिखे अंग्रेजी अक्षर का मतलब है ‘Last Vehicle’ यानि की आखिरी डिब्बा। सामान्य तौर पर यह सभी ट्रेन के डिब्बों के पीछे लिखा मिलता है लेकिन अगर किसी डिब्बे के पीछे नही दिखाई दे तो इसका मतलब है कि ट्रेन के कुछ डिब्बे रह गए हैं। ऐसे में आपातकालीन कार्यवाई शुरू हो जाती है।

इसे भी पढें:



loading…




Leave a Reply