गांव में मंदिर के लिए चल रही थी खुदाई, अचानक मिला कुछ ऐसा कि……


हमारे देश भारत में असंख्य मंदिर है। अगर अपने देश को मंदिरों का देश कहा जाए तो गलत नही होगा। हिन्दू धर्म में विश्वास रखने वालों के लिए मंदिर वह पवित्र स्थान है जहाँ आत्मा का मिलन परमात्मा से होता है। मंदिरों की बात की जाए तो असंख्य मंदिरों के साथ-ही-साथ असंख्य मान्यताएं भी हैं। कई मंदिर ऐसे भी हैं जहाँ देवी-देवताओं की जगह राक्षसों की पूजा होती है तो कई मंदिर ऐसे भी है जहाँ पर अप्राकृतिक घटनाओं को अलौकिक शक्तियां मानकर, उनकी पूजा की जाती है। भारत में कई मंदिर हजारों साल पुराने भी है। लेकिन आज हम एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जिसका निर्माण होने से पहले हीं रुक गया।



क्या है पूरा मामला

शिवलिंग
Source

यह घटना मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के भयावाड़ी गाँव के समीप घोड़ादेव की है। गांव में हनुमान मंदिर के निर्माण के लिए खुदाई हो रही थी तभी खुदाई के दौरान कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद तुरंत ही उसका निर्माण रुकवा दिया गया। दरअसल, खुदाई के दौरान ज़मीन के छह फीट नीचे एक बहुत ही प्राचीन शिवलिंग मिला। शिवलिंग मिलने की खबर जैसे ही आस-पास के इलाके में फैली, वैसे ही वहां पर भीड़ जमा होने लगी। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने वहाँ पूजा-पाठ शुरू कर दी। शिवलिंग मिलने के बाद मंदिर निर्माण करने वाले मजदूरों ने भी काम रोक दिया।




शिवलिंग
Source

स्थानीय निवासियों ने बताया की घोड़ादेव में एक चबूतरे पर हनुमान जी की प्रतिमा बरसों से स्थापित है। जब लोगों ने इस चबूतरे पर रखी हनुमान जी की मूर्ति के स्थान पर एक मंदिर बनाना चाहा, तो वहां पर पुरातन काल का शिवलिंग दिखाई दिया। दरअसल, मजदूर वहां पर मंदिर के कोलम के लिए 6 फीट गड्ढा खोद रहे थे तब वहां पुरातन काल का एक शिवलिंग दिखाई दिया। शिवलिंग को जब जानकारों न देखा तो पता चला की यह शिवलिंग भैंसदेवी के शिव मंदिर में रखे शिवलिंग की तरह है।



शिवलिंग
Source

शिवलिंग के बारे में यह बात तो साफ़ हो चुकी है की यह बहुत पुरानी है। ग्रामीणों का मानना है की क्षेत्र में ऐतिहासिक धरोहर बिखरी पड़ी है लेकिन इसे सहेजने के लिए कोई कदम अब तक नही उठाये गए हैं। हालाँकि, गाँव के पूर्व सरपंच ने इस घटना की जानकारी पुरातत्व विभाग को तत्काल दे दी थी। लेकिन, दो दिन बीत जाने के बाद भी वहां कोई नही पहुंचा है। ग्रामीणों का कहना है की यदि कोई शिवलिंग लेने के लिए नहीं आएगा को वे इसे मंदिर बनाकर स्थापित कर देंगे।

इसे भी पढें:

loading…



Leave a Reply