ईमानदारी से जीएसटी भरने वाले व्यापारियों के पुराने रिकॉर्डों की नहीं होगी जांच: प्रकाश जावेड़कर

जीएसटी लागू होने के बाद से ही व्यापारिक संगठनों की तरफ से ये सवाल उठाये जाने लगे थे कि यदि सभी व्यापारी जीएसटी के तहत टैक्स और रिटर्न भरना शुरू कर देंगे तो क्या उनके पिछले वर्षों में जमा किये गए टैक्स के रिकॉर्ड को खोलकर उसकी जांच भी शुरू कर दी जाएगी? लेकिन केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने व्यापारियों के इस आशंकाओं को दूर कर दिया और ऐसा नहीं होने का आश्वासन दिया।

जानिये क्या कहा केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने

जीएसटी पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने व्यापारिक संगठनों को आश्वासन दिया है कि जीएसटी के लागू होने के बाद यदि सभी व्यापारी नई पारी शुरू करके पूरी ईमानदारी के साथ टैक्स भरना शुरू कर देंगे तो उनके पिछले वर्षों के रिकॉर्ड को नहीं खोला जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी व्यापारी अब नए सिरे से व्यापार शुरू करें और पूरी ईमानदारी से टैक्स भरकर देश के विकास में अपना योगदान दें।

इस न्यूज़ को भी पढ़ें: धोती पहने शख्स को कोलकाता के मॉल में अंदर जाने की नही मिली इजाजत

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि हमारे पीएम ने एक राष्ट्र एक टैक्स नियम को लागू करके आर्थिक एकीकरण का काम किया है। पहले कारोबारियों और व्यापारियों को चोर समझा जाता था लेकिन अब ऐसा समझने का कोई वजह ही नहीं रहेगा। साथ ही जीएसटी के लागू हो जाने के बाद अब इंस्पेक्टर राज भी ख़त्म होने लगा है।

Done
Image Source :- Pixabay

व्यापारियों को इसलिए हो रही थी चिंता

जीएसटी लागू होने से पहले बहुत सारे व्यापारी आसानी से टैक्स बचाने में सफल हो जाते थे और उचित टैक्स नहीं भरते थे जिससे देश को आर्थिक नुकसान हो रहा था और देश के विकास में रुकावट आ रही थी। लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 1 जुलाई से लागू किये गए जीएसटी के तहत टैक्स चोरी कर पाना अब किसी के लिए भी पहले जितना आसान नहीं होगा और सभी व्यापारियों को उचित टैक्स भरना ही होगा। लेकिन वैसे व्यापारी, जो पहले सही से टैक्स नहीं भरते थे उन्हें ये अनुभव होने लगा कि इस बार उचित टैक्स भरने की वजह से कहीं उनका पुराना भेद न खुल जाए।

इस न्यूज़ को भी पढ़ें: राष्ट्रपति चुनाव: जानिए कैसे चुने जाते हैं भारत के प्रथम नागरिक

सभी व्यापारियों को ये लगने लगा था कि पुराना रिकॉर्ड खुलने के बाद कहीं उनकी जांच न शुरू हो जाए और उनपर कोई कानूनी कार्रवाई न शुरू हो जाए। लेकिन केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने इन व्यापारियों के शंकाओं का समाधान करते हुए अब नए सिरे से और ईमानदारी से टैक्स भरने वाले व्यापारियों पर इस तरह के किसी भी प्रकार की जांच नहीं किये जाने का आश्वासन दिया।

   हमारे इन न्यूज़ को भी पढ़ें :-

• वित्त मंत्री ने लांच किया जीएसटी एप्प, अब घर बैठे पता करें किसी भी सामान का जीएसटी रेट

• गूगल पर छाया जीएसटी, जानिये ज्यादातर लोगों ने इसके बारे में क्या सर्च किया

• सरकार ने शुरू किया जीएसटी ट्रेनिंग कोर्स, आप भी उठा सकते हैं फायदा

• जानिए जीएसटी के बाद क्या होगा सस्ता और क्या पड़ेगा महंगा

loading…


Leave a Reply