इन उपायों को अपनाकर अपने घर को बनाएं ज्यादा सुरक्षित

जैसा आप सभी जानते ही होंगे कि अब गर्मी अब अपने चरम स्तर पर पहुँच चुका है और ऐसे वातावरण में अगलगी की घटना तो आम बात हो जाती हैं। आजकल के समय में हमें अक्सर ये सुनने को मिलता है कि आज भीषण बगलगी में 100 घर जलकर राख हो गए तो कभी ये सुनने को मिलती है कि इस अगलगी में कुछ जान-माल की भी क्षति हुयी है। दोस्तों, यदि हम ये कहें कि अगलगी की ऐसी घटनाएं सिर्फ-और-सिर्फ हमारे गलतियों के वजह से ही होते हैं तो इसमें कोई गलत बात नहीं है।

Fire save your house and news


ये बात बिल्कुल ही सही है कि अगलगी की जितनी भी घटनाएं होती हैं उनमें से अधिकांश हमारी ही गलतियों के नतीजे होते हैं। तो आज हम इन्हीं टॉपिक पर बात करेंगे और अगलगी से बचने के कुछ उपाय बताएँगे जिन्हें अपनाकर आप भी अपने घर को और अपने आप को सुरक्षित रख सकते हैं।

1) अक्सर ग्रामीण इलाकों में अगलगी की मुख्य वजह जलावन के चूल्हे और दीये ही होते हैं। लोग इन चूल्हों का इस्तेमाल करते वक्त बहुत ही लापरवाही बरतते हैं। यदि आपके पास कोई और विकल्प न हों तभी अगलगी के इस मौसम में इस चूल्हे पर खाना बनाएं। और इस बात का पूरा ध्यान रखें कि खाना बनाते समय आप कहीं भी जाएँ तो चूल्हे को बुझाकर और उसे अच्छे तरीके से ढंककर जाएँ जिससे कि चूल्हे की आग बाहर तक न फैलें।

हमारे महत्त्वपूर्ण न्यूज़: हरा प्याज खाने के फायदे जानकर आप चौंक जाएंगे

2) जो लोग मिटटी के चूल्हे पर खाना बनाते हैं ज्यादातर जलावन में आग फैलाने के लिए मिटटी के तेल का इस्तेमाल जरूर करते हैं। लेकिन इसके बाद सबसे बड़ी गलती ये करते हैं कि उस तेल के डिब्बे को अपने रसोईघर में ही रख देते हैं। लेकिन ऐसा करने से यदि कभी तेल के डिब्बे पलट जायेंगे तो फिर पूरे घर में आग फैलने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। इसलिए अपने रसोईघर में ज्वलनशील और तैलीय सामग्री न ही रखें तो ज्यादा अच्छा है।


3) बहुत सारे लोग अपने घर के दरवाजे में परदे लगाकर रखते हैं। तो ऐसे में यदि आप भी अपने घर के दरवाजे में परदे लगते हैं तो कोशिश करें की उसी रूम में खाना बनाएं जिसमें परदे वगैरह न लगे हों। यदि किसी वजह से परदे वाले रूम में ही खाना बनाना आपकी मजबूरी हो तो इतना जरूर तय कर लें कि परदे से आपके चूल्हे की इतनी दूरी जरूर होनी चाहिए ताकि परदे उड़कर चूल्हे तक न पहुँच जाए।

इसे जरूर पढ़ें: जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा ने अपने बोल्ड लुक से इन्स्टाग्राम पर लगाईं आग, फोटो वायरल

4) यदि संयोगवश घर में कभी कुछ हो जाता है तो उस समय घर के दरवाजे ही बहुत काम आते हैं। घर से निकलने से लेकर आग बुझाने तक में भी हमारे घरों के दरवाजे का खाली रहना बहुत ही जरूरी होता है। इससे लोगों को अपनी जान बचने का भी मौका मिलता है और आपतकाल से निपटने में मदद मिलती है। तो ऐसे में कोशिश करें कि घर के दरवाजे के पास आपका चूल्हा न हो। कम-से-कम इतनी दूरी पर चूल्हा जरूर हो कि किसी आपात समय में भी दरवाजा फ्री रह सके।


5) मिटटी के चूल्हे पर खाना बना लेने के बाद चूल्हे के आग को पानी से अच्छी तरह से जरूर बुझा दें। क्योंकि अगलगी के लिए सिर्फ एक चिंगारी ही काफी होता है। और ऐसे में यदि आप अच्छे से आग को नहीं बुझाएंगे तो बहुत ही संभावना रहेगी आग लगने की।

इन न्यूज़ को भी पढना न भूलें: क्या सच में शाहरुख़ खान अब हमारे बीच नहीं रहे ?

6) यदि आप गैस चूल्हे पर खाना बनाते हैं तो खाना बनने के बाद चूल्हे के नोब को ऑफ तो करें ही लेकिन साथ-ही-साथ रेगुलेटर को भी ऑफ करना न भूलें।


7) आजकल शादी और अन्य तरह के फंक्शन्स बहुत ही जोरों पर हैं। लेकिन ऐसे में यहाँ सावधानी की और भी ज्यादा जरूरत पड़ जाती है। सबसे ज्यादा जरूरी तो वहां पड़ती है जहाँ जेनरेटर लगा हुआ होता है। जी हाँ, जेनरेटर के जो फ़िल्टर होते हैं उससे होकर बहुत ही जोरदार चिंगारी निकलती है जो कि किसी भी चीज को राख में बदल देने के लिए काफी होगा। इसलिए इस बात का पूरा ध्यान रखें कि आपके जेनरेटर के पास की जगह बिलकुल ही खाली हो और ज्वलनशील सामान तो कदापि न हों।

इसे भी जरूर पढ़ें: ग्रीन टी पीने के फायदे और नुकसान

loading…


Leave a Reply