यदि आप भी ओवरटाइम करते हैं तो इससे होने वाले इन नुकसान के बारे में जरूर जान लें

ओवर टाइम एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते हीं अच्छे-अच्छे लोगों के चेहरे उतर जाते हैं क्यूँकि सभी के अपने-अपने जरूरी काम भी होते हैं। हर व्यक्ति जल्दी से जल्दी घर जाकर अपने दूसरे काम भी निपटाना चाहता है लेकिन ओवरटाइम करने के कारण उसका जल्दी घर जाना संभव नही हो पाता। ओवरटाइम करना अच्छा है बुरा ये डिपेंड करता है आपके उपर लेकिन इतना जरूर है कि लगातार ओवरटाइम करने से आपको शारीरिक नुकसान जरूर हो सकता है। आइये इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

ओवरटाइम क्या है?

मानव जीवन आजकल इतना व्यस्त और भाग-दौड़ भरा हो गया है कि किसी को ढंग से खाने-पीने तक का समय तक नहीं मिल पाता है। आजकल महंगाई इतनी बढ़ चुकी है कि लोग एक काम करके अपना गुजारा बड़ी ही मुश्किल से कर पाते हैं। इन्हीं सब समस्याओं से निपटने के लिए अब लोगों को ओवरटाइम काम करना पड़ता है। ओवरटाइम का मतलब होता है निर्धारित से समय से ज्यादा देर तक काम करना। हालांकि ऐसा लोगों को मजबूरी में करना पड़ता है लेकिन यदि आप भी ऐसा ही करते हैं तो जरा सावधान हो जाएँ।

Overtime man in depration
Image Source :- Google

क्या है ओवरटाइम करने से होने वाले नुकसान का पूरा मामला?

जापान में ओवरटाइम करने की वजह से बहुत सारे लोगों को हार्ट अटैक का सामना करना पड़ चुका है। और-तो-और बहुत से लोग इससे तंग आकर आत्महत्या भी कर चुके हैं। बता दें कि ओवरटाइम करने से मौत होना जापान में एक बहुत बड़ी समस्या बन चुकी है जिसे देखते हुए वहां के सरकार ने लोगों को महीने में 100 घंटे तक ही ओवरटाइम करने की सलाह दी है। हालांकि बहुत सारे लोगों ने सरकार के इस कदम का समर्थन किया तो वहीँ बहुत लोगों के इसका विरोध भी किया।

इस न्यूज़ को भी पढ़ें: चैंपियन्स ट्रॉफी के फाइनल में भारत को हराकर पाकिस्तान बना पहली बार चैंपियन 

यदि चिकित्सकों की मानें तो ओवरटाइम करने के जितने आर्थिक फायदे हैं उससे कहीं ज्यादा इसके नुकसान हैं। जिस तरह से जीवन को जीने के लिए काम करना जरूरी है ठीक उसी तरह से शरीर को आराम देना भी बहुत ही जरूरी है। लोगों को दिन में 8 घंटे से ज्यादा काम नहीं करना चाहिए। यदि कोई इससे ज्यादा काम करते हैं तो वो ओवरटाइम माना जाता है जो स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी सही नहीं होता है। इसकी वजह से लोग डिप्रेशन का शिकार हो सकते हैं और उनके स्वभाव में कठोरता आ सकती है। ऐसे लोग अपने परिवार के किसी भी सदस्य से कभी भी अच्छे से बात नहीं कर पाते हैं।

हमारे इस न्यूज़ को भी पढ़ें: OMG! तो ये है मिथुन चक्रवर्ती के जीवन की असली सच्चाई

एक रिपोर्ट के अनुसार एक इंसान को दिनभर में सिर्फ 8 घंटे ही हार्डवर्क करना चाहिए। यदि इससे ज्यादा समय तक कोई भी कठोर वर्क करेंगे तो उन्हें ऊपर बताये गए जैसे हालातों का सामना करना पड़ सकता है। काम के सिवाए लोगों को व्यायाम में भी एक घंटे बिताना चाहिए और बाकी के समय में अपने घरों के काम में हाथ बताना चाहिए और अपने परिवार के साथ समय बिताना चाहिए और फिर रात में 6 से 8 घंटे तक आराम भी करना चाहिए।

 इन न्यूज़ को भी जरूर पढें :-

• लीची के इतने सारे चमत्कारी फायदे जानकर हो जायेंगे हैरान

• पढिए कैसे लहसुन और अंडे के प्रयोग से वापस आ जाएंगे सिर के झड़े हुए बाल

• पीपल के पेड़ की इस खूबियों के बारे में जानकर चौंक जायेंगे आप

• आलू के छिलके और रेशेदार भोजन के ये फायदे चौंका देंगे आपको.

• BSNL ने मारा चौका और उड़ा दी जियो की नींद, जानें इसके बेहतरीन डाटा प्लान के बारे में

loading…


Leave a Reply