नीतीश कुमार ने महागठबंधन को दिया तीन तलाक, बीजेपी के साथ बनाएंगे सरकार


बिहार में पिछले कई दिनों से चली आ रही महागठबंधन की उठा-पटक बुधवार की शाम उस वक्त थम गई जब नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिलकर उन्हे अपना इस्तीफा सौंप दिया। उनके इस्तीफे की खबर सुनते हीं लालू यादव उन पर हमलावर हो गए और उन्हे हत्या का आरोपी तक कह डाला।

तेजस्वी यादव के करप्शन के मुद्दे को लेकर पिछले कई दिनों से नीतीश और लालू यादव के बीच खींचतान चल रही थी। नीतीश कुमार उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का इस्तीफा चाहते थे लेकिन तेजस्वी इस्तीफा न देने की जिद्द पर अड़े हुए थे। तेजस्वी के इस अड़ियल रवैये को देखते हुए आखिरकार नीतीश ने खुद को महागठबंधन से किनारे करते हुए राज्यपाल को अपना इस्तीफा दे दिया।



नीतीश कुमार इस्तीफा
Image Source: NDTV

नीतीश कुमार के इस्तीफे के तुरंत बाद बिहार बीजेपी ने उन्हे समर्थन देने का ऐलान किया। बीजेपी नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को समर्थन देते हुए कहा कि उन्हे नीतीश कुमार मुख्यमंत्री के तौर पर मंजूर हैं। हालांकि इस बाद का अंदेशा पहले से हीं हो गया था कि अगर महगठबंधन टूटा तो बीजेपी नीतीश को सपोर्ट करेगी।


नीतीश ने किया सरकार बनाने का दावा

सीएम आवास में बीजेपी के साथ बैठक के बाद नीतीश ने रात 12 बजे के करीब राज्यपाल से मिल कर सरकार बनाने का दावा पेश किया और सुबह 10 बजे शपथ लेने का समय घोषित किया। इससे पहले राजभवन से खबर आई थी कि नीतीश गुरुवार को शाम 5 बजे शपथ लेंगे। सुबह शपथ लेने की खबर सुनते हीं तेजस्वी यादव ने भी ट्वीटर के जरिये बताया कि वो भी राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे।

इसे भी पढें: नीतीश कुमार ने कभी नहीं माँगा तेजस्वी यादव का इस्तीफ़ा: लालू यादव

तेजस्वी का कहना है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण उन्हे सरकार बनाने का बुलावा आना चाहिए। गौरतलब है कि बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के पास सबसे अधिक 80 विधायक हैं, वहीं नीतीश कुमार की पार्टी जद(यू) के पास 71 विधायक हैं, जबकि बीजेपी के पास 53 और कांग्रेस के पास 27 विधायक हैं।


नीतीश कुमार इस्तीफा
Image Source: NBT

बिहार में सरकार बनाने के लिए 122 सीटें होनी चाहिए ऐसे में जद(यू) और बीजेपी की सीटें मिला कर हीं 124 सीट हो जा रही है जबकि अगर बीजेपी की सहयोगी पार्टियों लोजपा, आएलएसपी और हम को मिला दिया जाए तो कुल 129 सीटें हो जाएंगी। इतनी सीटों के दम पर नीतीश कुमार आसानी से अपनी सरकार चला सकते हैं।


प्राप्त सूचना के अनुसार, जद(यू)-बीजेपी गठबंधन ने 132 विधायकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया है। राज्यपाल ने उन्हे सुबह शपथग्रहण समारोह के लिए बुलाया है। नीतीश कुमार मुख्यमंत्री और सुशील मोदी उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। हर घड़ी बदलते घटनाक्रम में नये अपडेट्स के लिए हमसे जुड़े रहें।

इसे भी पढें:

loading…



Leave a Reply