अगर आपके पास भी बाईक है तो ये जरूर पढें

बरसात का मौसम आते हीं एक्सीडेंट की घटनाएं बढ जाती हैं। विशेषकर दो पहिया वाहनों की एक्सीडेंट की घटनाएं बहुत ज्यादा होती है। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कुछ खास टिप्स जिसे अपना कर आप इस तरह के एक्सीडेंट्स को रोक सकते हैं।

1) हेलमेट पहन कर ही बाईक चलायें। बारिश में हेलमेट भींग जाने का बहाना नहीं चलेगा। एक हेयर ड्रायर रखिये. यदि हेलमेट भींग जाए तो अंदर से सुखा लीजिये। इस मौसम में स्टाइल दिखाने का कोई विशेष फायदा नहीं है। खोपड़ी बची रहेगी तो जिन्दगी में बहुत कुछ कीजियेगा।

2. हेलमेट का वाईज़र उठा कर गाड़ी चलायें। वाईज़र पर पानी पड़ता है तो सामने से आती गाड़ी दिखाई नहीं देती।

बाईक
Image Source: Google

3. गाड़ी का पिछला टायर घिस गया हो तो बदलवा लें, आजकल स्किड करने की संभावना अधिक है। ऐसा टायर लगवाएं जिसमें सीधे-सपाट ग्रूव्स की अपेक्षा आड़े तिरछे साइप्स और ब्लॉक्स अधिक हों। यह फिसलने से रोकता है।

4. गाड़ी की सर्विसिंग करवा कर तेल ग्रीस लगवा कर चलायें अन्यथा हवा में नमी अधिक होने के कारण अंदरूनी पार्ट्स में जंग जल्दी लग जाएगी।

इसे भी पढें: Sonu Songs: RJ रौनक ने गाया लालू तुम्हे नीतीश पर भरोसा नही क्या

5. खाली सड़क देखकर गाड़ी जरूरत से ज्यादा तेज मत चलाएं। ऐसे रास्तों पर विचरते पशु दिखाई नहीं देते और अचानक सामने आ जाते हैं। जहाँ तक संभव हो धीरे या नॉर्मल गति पर ही बाईक चलायें।

6. बाईक में एक डिग्गी जरूर होनी चाहिए और डिग्गी में रेनकोट जरूर रखिये। बारिश होने पर आप रेनकोट पहन लेंगे और भींगने से बच जाएंगे।

7. अपने शहर में डेली रूटीन के रास्तों पर मोड़ कहाँ है ये तो सबको पता ही होता है। इसलिए मुड़ने से कुछ पहले ही गाड़ी धीमा कर लीजिये। गाड़ी मोड़ते समय धीमा करने पर फिसलने के चांस ज्यादा होते हैं।

8) कुछ लोग गाड़ी चलाते समय अगल-बगल से गुजर रही लड़कियों की तरफ देखने लगते हैं। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो आज हीं अपनी आदत बदल लें। ऐसा करने से आप अपने साथ-साथ दूसरे व्यक्ति की जान को भी खतरे में डालते हैं।

उपरोक्त बताए गए बातों का पालने करने की जिम्मेदारी हम सब की है। याद रखें आपके घर वाले आपको देर से घर पहुँचने पर कुछ नही कहेंगे या सिर्फ नाराज होंगे लेकिन अगर आप घर की जगह हॉस्पीटल पहुँच गए तो वो आपको कभी माफ नही करेंगे।

इसे भी पढें:

loading…


Leave a Reply