दिल के दौरे में कारगर है एस्पिरिन, जाने इसके फायदे और नुकसान

एस्पिरिन एक प्रकार की दर्दनिवारक औषधि है। आप जानकर हैरान हो जाएंगे कि ये दर्दनिवारक के अलावा ज्वर कम करने के लिये, ज्वरशामक के रूप में, और शोथ-निरोधी दवा के रूप में भी हमारे काम आ सकती है। आइये जानते हैं एस्पिरिन के अन्य फायदों के बारे में।

एस्पिरिन के फायदे:-

एस्पिरिन के फायदे
Image Source: Google

1) अगर आपके सर में बहुत तेज दर्द है तो एस्पिरिन खाने से वो दर्द तुरंत खत्म हो जाता है। इसके अलावा यह ज्वर को कम करने और दर्द निवारक के रूप में भी प्रयोग होता है।

2) चेहरे पर या शरीर में कहीं भी मस्सा हो तो एस्पिरिन को तोड़कर उसका पाउडर बना लें और इसमे पानी मिलाकर पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को मस्से पर लगाकर 15 मिनट तक छोड़ दें। उसके बाद पानी से धो दें। रोज ऐसा करने से मस्सा खत्म हो जाता है।

3) अगर आप मुँहासे से परेशान हैं तो एस्पिरिन की एक या दो गोली लेकर उसे पीस लें। फिर उसमे पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को मुंहासों पर दो से पांच मिनट तक लगा रहने दें और फिर फेश वॉश से धो दें। इससे मुंहासा सूखने लगता है और तेजी से ठीक होता है।

4) अगर आपके त्वचा पर या कपड़ों पर कोई दाग लग गया है तो नींबू के रस में 1-2 एस्पिरिन का पाउडर मिला दें और इसे पानी में मिलाकर उसमे कपड़ें भिंगो दें और 10 मिनट बाद कपड़े को धो लें। इससे कपड़े पर मौजूद दाग-धब्बे भी छूट जाएंगे।

इसे भी पढें: अजब-गजब: डॉक्टर कर रहे थे ब्रेन सर्जरी और युवक बजा रहा था गिटार

5) बालों में डेंड्रफ से परेशान हैं तो एस्पिरिन की दो गोलियों को पीस कर उसे शैम्पू में मिला लें और फिर इससे सिर धो लें। 2-3 बार सिर धोने से रूसी की समस्या खत्म हो जाएगी।

6) एस्पिरिन के सेवन से शरीर में खून पतला होता है और रक्त संचार सही होता है।


7) दिल का दौरा पड़ने पर उसी वक्त मरीज को एक एस्पिरिन की गोली चुसने के लिए दें। इससे मरीज का दर्द कम हो जाता है और उसकी हालत स्थिर हो जाती है।

8) कवक के कारण पैरों में या त्वचा में जलन होती है तो एस्पिरिन की कुछ गोलियों को पीस कर टेल्कम पाउडर में मिला लें और इसे संक्रमित जगह पर लगा दें। इससे जलन समाप्त हो जाएगी।

9) अगर आप शराब पीते हैं तो एस्पिरिन की एक गोली लेने से आपका लीवर खराब होने से बच सकता है।

10) एस्पिरिन कैंसर होने से बचाती है।

एस्पिरिन के नुकसान:-

एस्पिरिन के फायदे
Image Source: FDA

1) अगर आपको अस्थमा की शिकायत है तो आप भूलकर भी एस्पिरिन न लें क्यूँकि ये फेफड़ों में ऐंठन पैदा करती है।

2) अगर आपको किसी चीज से एलर्जी है तो भी एस्पिरिन का सेवन न करें अन्यथा किसी खास चीज के प्रति आपकी एलर्जी और भी ज्यादा बढ जाएगी।

3) अगर आपको ब्लड क्लॉटिंग की समस्या है तो आप एस्पिरिन का सेवन न करें क्यूँकि यह खून को पतला कर देता है।

4) इसका नियमित रूप से सेवन करना भी खतरनाक है। रोज एस्पिरिन लेने से आमाशय में ब्लीडिंग शुरू हो जाती है।

5) 16 साल या उससे कम उम्र के बच्चों को एस्पिरिन न दें क्यूँकि यह कम उम्र के बच्चों के लीवर और दिमाग में सूजन पैदा कर देती है जो आगे चलकर बहुत खतरनाक साबित होता है।

इसे भी पढें:

loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *