बर्थडे स्पेशल: जानिए वीरेन्द्र सहवाग से जुड़ी कुछ रोचक बातें


आज भारतीय क्रिकेट टीम के धाकड़ बल्लेबाज रहे वीरेन्द्र सहवाग अपना 39वां जन्मदिन मना रहे हैं। सहवाग बल्लेबाजी के अपने खास अंदाज के लिए मशहूर रहे। सहवाग बेखौफ होकर बल्लेबाज़ी करते रहे हैं। उनका कहना है कि वह 5 रन पर खेल रहे हों, या 195 पर, या फिर चाहे 295 पर ही खेल रहे हों, अगर उन्हें लगेगा कि गेंद छक्के के लिए है तो वह छक्का ही लगाएंगे। उन्होंने कई बार ऐसा किया भी।

टेस्ट हो, टी-20 या फिर वनडे, सहवाग का खेलने का तरीका हमेशा एक जैसा ही रहता था। वह हमेशा पहली बॉल से ही गेंदबाज पर अटैक किया करते थे और इसकी गवाही उनके रिकॉर्ड्स भी देते हैं। यूं तो वीरू क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन अब भी कमेंटेटर के तौर पर उनका जलवा कायम है। वीरू की हिंदी कमेंट्री के लाखों चाहने वाले हैं।


वीरेन्द्र सहवाग
Source

मैदान पर रनों की बारिश करने वाले वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को हरियाणा के एक जाट परिवार में हुआ था। अपने माता-पिता की वे तीसरी संतान हैं। सहवाग मैदान पर ऐसे ही चौकों और छक्कों की बारिश नहीं करते। क्रिकेट का शौक उन्हें बचपन से ही था। उनके पिता किशन सहवाग ने एक इंटरव्यू में बताया था कि ‘‘सहवाग को क्रिकेट से प्रेम बचपन में ही जाग गया था जब वह सात महीने के थे उन्होंने वीरेंद्र को एक बैट खेलने के लिए लाकर दिया था।’’

इसे भी पढें: Happy Birthday MSD: धोनी हुए 36 के, जानिए उनके बारे में कुछ मजेदार बातें

वीरेंद्र सहवाग अकेले भारतीय क्रिकेटर हैं जिनके नाम दो तिहरे शतक हैं। उनके अलावा कोई अन्य भारतीय बल्लेबाज तिहरे शतक के जादुई आंकड़े को छू भी नहीं पाया। वर्ल्ड क्रिकेट में 24 खिलाड़ियों के नाम 28 तिहरे शतक हैं, इनमें से दो तिहरे शतक सहवाग के नाम हैं।


वीरेन्द्र सहवाग
Source

सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक जड़े हैं। उनका पहला तिहरा शतक मुल्तान में पाकिस्तान के खिलाफ आया था। तब वीरू ने 375 गेंदों में 309 रन जड़े थे. वीरू ने कई कार्यक्रम में इससे जुड़े कई किस्से साझा किए हैं। इनमें से एक है, जब वीरू बल्लेबाजी कर रहे थे तो सचिन नॉन स्ट्राइक एंड पर उनके साथ थे तब सचिन उन्हें लगातार समझा रहे थे कि ऊंचे शॉट मत खेल आउट नहीं होना है।


लेकिन जब वो 295 पर पहुंचे, तो वीरू ने सचिन को साफ कह दिया कि अगर अब स्पिनर आया तो मैं छक्का ही मारूंगा चाहे मैं आउट ही क्यों ना हो जाऊं। और ऐसा ही हुआ, अगले ओवर में स्पिनर आया और सहवाग ने छक्का मारकर अपना तिहरा शतक पूरा किया था।

बता दें कि सहवाग ने 104 टेस्ट मैचों में 8586 रन बनाए हैं जिसमे 23 शतक और 32 अर्धशतक शामिल हैं। टेस्ट क्रिकेट में उनका औसत 49.34 है। वहीं 251 वनडे में वीरू ने 8273 रन बनाए हैं। उनका बल्लेबाजी औसत 35.06 और स्ट्राइक रेट 104.34 है। उन्होने वनडे में 15 शतक और 38 अर्धशतक लगाए हैं। साथ हीं 19 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 21.89 की औसत और 145.39 के स्ट्राइक रेट से 394 रन बनाए हैं जिसमें 2 अर्धशतक शामिल है।


इसे भी पढें:

loading…



Leave a Reply