क्या आप जानते हैं वाहनों पर क्यों लिखा जाता है A/F

हम सभी हमेशा नई गाड़ी के नम्बर प्लेट पर A/F लिखा देखते हैं लेकिन कभी इस बारे में नही सोचते हैं कि आखिर ऐसा क्यों लिखा होता है। अक्सर लोग गाड़ी या बाइक खरीदते हैं तो उन्हे कोई टेम्परेरी नम्बर दिया जाता है लेकिन जिन लोगों को टेम्परेरी नम्बर नही मिलता है उनके गाड़ी पर A/F लिख दिया जाता है। लेकिन सवाल ये उठता है कि ऐसा क्यों किया जाता है? आज हम आपको जानेंगे कि नई बाइक या गाड़ी पर A/F क्यों लिखा जाता है।

क्यों लिखते हैं A/F

A/F
Source

A/F का मतलब Applied For होता है। इसका मतलब ये होता है कि गाड़ी के मालिक ने गाड़ी के नए नंबर के लिए आवेदन कर दिया है और जब तक गाड़ी का परमानेंट नम्बर नहीं प्राप्त हो जाता है तब तक उसको नम्बर प्लेट पर A/F या Applied For लिखने की मोहलत दी जाती है।

हालांकि वाहन मालिकों को आरटीओ से यह छूट तभी तक मिलती है जब तक कि उन्हे अपनी गाड़ी का परमानेंट नम्बर नही मिल जाता। आम तौर पर परमानेंट नम्बर अप्लाई करने के 7 दिनों के अन्दर हीं मिल जाता है लेकिन अगर उसके बाद भी वाहन मालिक नम्बर प्लेट पर A/F लिखता है तो ये कानूनन जुर्म है और इसके लिए उसे जुर्माना अथवा सजा भी हो सकती है।

अब तो आप समझ गए होंगे कि नए गाड़ी के नम्बर प्लेट पर A/F लिखने के रहस्य के बारे में। अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो हमे फॉलो जरूर करें जिससे आपको इस तरह के और भी रोचक जानकारियां आगे भी मिलती रहे।

इसे भी पढें:

loading…

Leave a Reply