जानिए शरीर के अंगों पर छिपकली गिरने के शकुन और अपशकुन

हम सभी के घरों में छिपकलियां पायी जाती है। ये घरेलू छिपकलियां होती हैं और घर के हीं किसी कोने में दुबकी रहती है और रात के समय अपने खाने की तलाश में बाहर आती हैं। छिपकलियों को लेकर हिन्दू धर्म में कई शकुन और अपशकुल बनाए गए हैं। शकुन शास्त्र के अनुसार छिपकली अगर किसी अंग पर गिर जाए तो वो शकुन होता है या अपशकुन, इन सभी के बारे में इस शास्त्र में बताया गया है। आइये जानते हैं शरीर के किस अंग पर छिपकली गिरने से क्या होता है।

छिपकली गिरने के शकुन और अपशकुन:

1) अगर आपके माथे पर छिपकली गिर जाए तो इसका मतलब है कि आपको धन-संपति मिलने वाली है।

2) छिपकली सीधे बालों पर गिरती है तो इसका मतलब आपका जीवन संकट में है और मृत्यु की संभावना प्रबल है।

3) दायें कान पर छिपकली के गिरने का मतलब है आपको आभूषण यानि गहने मिलने की संभावना है वहीं बायें कान पर छिपकली के गिरने से आयु में वृद्धि होती है।

4) अगर छिपकली आपके नाक पर गिरती है तो इसका मतलब जल्दी हीं आपका भाग्योदय होने वाला है।

छिपकली गिरने के शकुन
Source

5) मुंह पर छिपकली के गिरने का मतलब है आपको जल्दी हीं स्वादिष्ट भोजन की प्राप्ति होगी।

6) भौंहों पर छिपकली के गिरने से आर्थिक नुकसान होता है।

7) अगर छिपकली बायीं आंख पर गिरे तो समझ लीजिए जल्दी हीं कोई बड़ा नुकसान होने वाला है जबकि दायीं आंख पर गिरने से किसी मित्र से मिलने की संभावना बनती है।

8) दायें गाल पर छिपकली के गिरने से उम्र बढती है जबकि बायें गाल पर गिरने से किसी पुराने मित्र से मुलाकात होती है।

इसे भी पढें: धन की कमी दूर करने के लिए करें ये आसान उपाए

9) गर्दन पर छिपकली का गिरना सौभाग्य तथा यश लाता है।

10) मूंछ पर छिपकली के गिरने से सम्मान की प्राप्ति होती है जबकि दाढी पर गिरने से किसी बड़े और भयावह संकट का सामना करना पड़ सकता है।

11) कंठ पर छिपकली का गिरना आपके शत्रुओं के नाश का संकेत होता है।

12) अगर आपके दायें कंधे पर छिपकली गिरती है तो इसका मतलब आपको किसी वाद-विवाद या युद्ध में विजय मिलेगी जबकि बायें कंधे पर छिपकली गिरने से नए शत्रु बनते हैं।

13) दायें हाथ पर छिपकली गिरने से धन लाभ तथा बायें हाथ पर गिरने से धनहानि होती है।

14) दाहिनी हथेली पर छिपकली गिरती है तो इसका मतलब आपको नए वस्त्र मिलेंगे वहीं बायीं हथेली पर गिरने का मतलब आपके धन की हानि होगी।

15) दाएं स्तन या छाती के दाहिनी ओर छिपकली का गिरना शुभ होता है और इससे आर्थिक लाभ होता है जबकि बाएं स्तन या बायीं छाती पर गिरने से घर में क्लेश होता है।

16) पेट पर छिपकली गिरने से नए आभूषण प्राप्त होते हैं।

17) पीठ के दायीं तरफ छिपकली के गिरने से सुख मिलता है जबकि बायीं तरफ गिरने से व्यक्ति रोगी बनता है।

इसे भी पढें: ये 10 संकेत बताते है कि आपको होने वाला है धन लाभ

18) कमर के बीच में छिपकली के गिरने पर आर्थिक लाभ होता है जबकि पीठ के बीच में गिरने पर घर में बड़ा क्लेश होता है।

19) अगर छिपकली आपके नाभि पर गिर जाए तो इसका मतलब है कि जल्दी हीं आपकी मनोकामनाएं पूर्ण होने वाली हैं।

छिपकली गिरने के शकुन
Source

20) छिपकली के दायीं जांघ पर गिरने से सुख की प्राप्ति होती है जबकि बायीं जांघ पर गिरने से दुख और शारीरिक कष्ट होता है।

21) अगर छिपकली आपके दायें घुटने पर गिरती है तो इसका मतलब जल्दी हीं आपके यात्रा का योग बनने वाला है लेकिन बायें घुटने पर गिरने का मतलब है आपके बुद्धि और सौभाग्य की हानि होने वाली है।

22) दायें पैर या दायीं एड़ी पर छिपकली के गिरने से यात्रा से लाभ होता है जबकि बायें पैर या बायीं एड़ी पर गिरने से घर में बीमारी और कलह बढता है।

23) दायें पैर के तलवे पर छिपकली के गिरने का मतलब है ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी जबकि बायें पैर के तलवे पर गिरने का मतलब बिजनेस में नुकसान होगा।

24) दो छिपकलियां आपस में लड़ते दिखे तो इसका मतलब पुराने मित्र से अलगाव होता है।

25) अगर छिपकलियां आपस में समागम (संभोग) करते दिखे तो पुराने मित्र से अचानक मुलाकात होती है।

अगर शरीर के किसी भी हिस्से पर छिपकली गिर जाए तो उसके शकुन और अपशकुन के बारे में बाद में सोचें, पहले उस अंग को पानी से अच्छी तरह से धो लें क्योंकि छिपकली का पसीना जहरीला होता है और उससे आपको किसी तरह का इंफेक्शन भी हो सकता है।

ऊपर बताए गए सभी शकुन या अपशकुन पुरानी मान्यताओं पर आधारित हैं, इसे मानना या न मानना पूरी तरह से आप के ऊपर निर्भर करता है।

हमारे इस तरह के सभी पोस्ट पढने के लिए हमारे न्यूजलेटर को सब्सक्राइब जरूर करें और लगातार अपडेट पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें।

इसे भी पढें:

loading…

Leave a Reply