घर के मंदिर में कभी न करें ये काम, माँ लक्ष्मी नाराज हो जाएंगी

Download Our Android App by Clicking on 

हम जाने-अनजाने अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में कई ऐसे काम कर देते हैं जो हमे नही करने चाहिए। ऐसे कामों का गलत प्रभाव हमारे जीवन पर जरूर पड़ता है लेकिन हम समझ नही पाते कि हमारे साथ ऐसा क्यूँ हो रहा है। गलती हमसे हुई होती है लेकिन हम भगवान और किस्मत को दोष देते हुए इसे अपनी नियति मान लेते हैं।

कई बार हमारे पास पैसा तो आता है लेकिन टिकता नही है और कई बार तो पैसा आता हीं नही है या आते-आते रूक जाता है। ऐसे समय में हम इसे अपनी किस्मत कर चुपचाप बैठ जाते हैं लेकिन समस्या की जड़ कहीं और होती है। आइये जानते हैं कुछ ऐसी हीं बातें जो हमें अपने घर के मंदिर में भूलकर भी नही करने चाहिए नही तो माता लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं।

घर के मंदिर में ये काम नही करना चाहिए

1. घर में कभी भी टूटी हुई या खंडित मूर्ति न रखें इससे घर के देवता नाराज होते हैं और लक्ष्मी जी भी उस घर से चली जाती हैं। जब भी कोई मूर्ति टूट जाए तो उसे किसी नदी में प्रवाहित कर दें।

2. घर में जब पूजा होती है तो उसमे चावल का विशेष महत्व होता है। हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि पूजा में चढाए गए चावल टूटे हुए न हो और न ही उनमे कीड़े लगे हो। इससे पूजा में अशुभ प्रभाव पड़ता है। इसलिए पूजा में हमेशा साफ और साबुत चावल हीं प्रयोग करें।

3. घर में कभी भी दो शिवलिंग की पूजा भूलकर भी न करें। इसके अलावा घर के मंदिर में गणेश जी की 3 मूर्तियाँ भी कभी स्थापित न करें।

4. घर में होने वाले पूजा में दूध, दही, घी और पानी का उपयोग करते समय उसमे कभी भी उंगली न डालें, ऐसा करने से इनसे हमारे नाखूनों का स्पर्श होता है और ये अपवित्र हो जाते हैं और पूजा के योग्य नही रह जाते। इन सभी चीजों को चम्मच या लोटे से निकालना चाहिए।

इसे भी पढें: क्या आप जानते हैं क्यूँ नहीं की जाती है ब्रह्मा जी की पूजा

5. कई बार हम लोग दीपक जलाते समय एक हीं दीपक से सारे दीपक जला लेते हैं ऐसा करना शुभ नही माना जाता है। इसलिए जब भी आप दीपक जलाएं तो सभी को अलग-अलग जलाएं।

घर के मंदिर में कौन से काम नही करना चाहिए

6. कुछ लोग भगवान पर फूल चढाते समय उन्हे लोटा या जल में डाल लेते हैं और तब उसे भगवान पर चढाते हैं। ऐसा करना गलत है। जल में से निकाल कर उस फूल को भगवान को न चढाएं इसके बजाए वो फूल सीधे भगवान पर चढा दें। (नोट:- पूजा से पहले फूल को पानी में धो सकते हैं)

7. जब भी हम घर में पूजा रखते हैं तो हवन भी करते हैं। हवन करते समय इस बात का ध्यान रखें कि हवन में प्रयोग की जाने वाली लकड़ियाँ छाल रहित और कीड़े लगे हुए न हों और हवन की लकड़ी जलाते समय पंखे का इस्तेमाल भूल कर भी न करें।

इसे भी पढें: जानिये गुरूवार के दिन उपवास करके लडकियां क्या मांगती हैं भगवान विष्णु से

8. तांबे के बर्तन में दूध, दही और पंचामृत कभी नही डालना चाहिए। ऐसा करने से ये सब चीजें मदिर के समान हो जाते हैं।

9. कोई भी पूजा तुलसी के पत्ते के बिना पूरी नही होती है। इसलिए तुलसी के पत्ते तोड़ते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि उस दिन रविवार, पूर्णिमा, अमावस्या न हो। इसके अलावा शाम हो जाने के बाद भी तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी बहुत प्रिय है और लक्ष्मी जी भी भगवान विष्णु की हीं पत्नी हैं। इससे आप समझ सकते हैं कि भगवान विष्णु के नाराज होने पर माता लक्ष्मी आपसे कैसे खुश रह सकती हैं।

10. किसी भी हवन में या श्राद्ध कार्य में काले तिल का प्रयोग जरूर करें, काला तिल शुभ माना जाता है। भूल कर भी सफेद तिल का प्रयोग न करें।





इसे भी पढें:

loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *