धनतेरस के दिन जरूर करें इन चीजों की खरीदारी, चमक उठेगा आपका भाग्य


धनतेरस का पर्व हर साल दिवाली से ठीक दो दिन पहले कार्तिक मास की कृष्ण त्रयोदशी को मनाया जाता है। इस दिन यमराज और भगवान धनवंतरी के साथ ही मां लक्ष्मी और कुबेर की पूजा का महत्व है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, समुद्र मंथन के दौरान कार्तिक मास के कृष्ण त्रयोदशी के दिन हीं भगवान धनवंतरी अवतरित हुए थे। ऐसा कहा जाता है कि भगवान धनवंतरी, भगवान विष्णु के हीं अंशावतार हैं।

धनतेरस के दिन
Source

धनतेरस पर खरीदारी का विशेष महत्व रहता है, कहा जाता है धनतेरस पर की गई खरीदारी सौभाग्य लेकर आती है। धनतेरस से ही दीपावली पर्व की शुरुआत हो जाती है। इस दिन सोना-चांदी, बर्तन, इलेक्‍ट्रानिक्‍स वस्तुएं खरीदना काफी शुभ माना जाता है। लोक मान्यता के अनुसार धनतेरस एक धन लगकर तेरह गुणा धन पाने का त्योहार है। इसलिए अमीर गरीब हर वर्ग के व्यक्ति इस दिन कुछ न कुछ खरीदते हैं।

इसे भी पढें: दिवाली पर घर की सफाई के लिए अपनाएं ये टिप्स

इस बार 17 को अक्टूबर को धनतेरस पर अत्यंत शुभ योग बन रहे हैं। ये पांच शुभ योग अत्यंत लाभ देने वाले रहेंगे। पांच शुभ योग 19 साल बाद एक दिन में रहेंगे। पंडितों के अनुसार इस मुहूर्त में शुभ कार्य, लेन-देन भी शुभ माना जाता है। शाम के समय प्रदोष काल (सांय कालीन पूजा के बाद) ज्वेलरी, इलेक्ट्रॉनिक सामान और लक्ष्मी-गणेश की प्रतिमा का खरीदारी का विशेष महत्व होता है। इस बार धनतेरस सुबह से देर रात तक मंगलकारी और लाभदायक रहेगा। धनतेरस पर मंगलवार और प्रदोष का होना अति शुभ है।

9 चीजें जिन्‍हें खरीदने से बढ़ेगा भाग्‍य

धनतेरस के दिन
Source

1) धनतेरस के दिन लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्ति जरूर खरीदनी चाहिए। इससे घर में धन संपत्ति का आगमन रहता है और पूरे साल कभी घर में धन की कमी नहीं रहती।


2) धातु का सामान जैसे सोना, चांदि व पीतल खरीदना सर्वश्रेष्‍ठ है इस दिन ये सब खरीदने से पूरे साल तक घर में लक्ष्‍मी बनी रहती है।

3) इस दिन स्फटिक का श्रीयंत्र घर लाने से लक्ष्‍मी घर की ओर आकर्षित होती है। घर लाकर इस यंत्र की पूजा करें और उसके बाद उसे केशरिया रंग के कपड़े में बांधकर धन वाले स्‍थान जैसे तिजोरी इत्यादि पर रख दें। इससे हमेशा आपके घर में धन बना रहेगा।

इसे भी पढें: दिवाली की रात दिखें ये चीजें तो समझ जाइए माता लक्ष्मी आपसे प्रसन्न हैं

4) इस दिन नई झाडू जरूर खरीदनी चाहिए इससे नकारात्‍मक शक्तियां घर से वापस जाती हैं और लक्ष्‍मी जी का आगमन होता है।


5) धनतेरस के दिन शंख लाएं और इसे दिवाली पूजन के समय बजाएं, इससे घर में लक्ष्‍मी आती है।



6) धनतेरस के दिन नमक जरूर खरीदें और नमक को पानी में मिलाकर पोछा जरूर लगाएं। ऐसा करने से दरिद्रता चली जाती है।



7) धनतेरस के दिन कुबेर की मूर्ति या तस्‍वीर लाकर इनकी पूजा करें और धन वाले स्‍थान पर रखें।

8) धनतेरस के दिन सात मुखी रूद्राक्ष की पूजा करने से मां लक्ष्‍मी के साथ साथ महादेव की कृपा बनी रहती है।

9) धनतेरस के दिन दीया जरूर लाना चाहिए। साल का यही एक ऐसा दिन है जिस दिन यमराज की पूजा की जाती है इस दिन लक्ष्‍मी जी के साथ-साथ यमराज के नाम का भी दिया जलाया जाता है।

धनतेरस के दिन भूलकर भी न खरीदें ये चीजें

1) इस दिन शीशा/कांच से बनी कोई भी वस्तु न खरीदें। कांच का संबंध राहु से होता है और राहु को नीच ग्रह माना जाता हैं। इसलिए कांच का सामान खरीदना शुभ नहीं माना जाता।

2) धनतेरस पर एल्युमिनियम का बर्तन भी खरीदना वर्जित है। इसका संबंध भी राहु से होता है इसलिए इसको शुभ नहीं माना जाता है। यही कारण कि एल्युमिनियम का प्रयोग पूजा-पाठ में नहीं किया जाता है।

3) धनतेरस के दिन किचन में काम आने वाली वस्तुएं जैसे नुकीला वस्तु, चाकू और लोहे के बर्तन नहीं खरीदना चाहिए।

इसे भी पढें:

loading…




Leave a Reply