अगर आपके घर में भी कूलर है तो इसे जरूर पढें।

गर्मी शुरू होते हीं सभी लोग अपने-अपने घरों में कूलर का प्रयोग करना शुरू कर देते हैं। कूलर की ठंडी हवा में नींद भी अच्छी आती है इसलिए हम बड़े आराम से सोते हैं। लेकिन अगर आप कूलर चला कर चैन की नींद सोते रहना चाहते हैं तो यहाँ बताए गए कुछ निर्देशों का पालन जरूर करें।

कूलर चलाते वक्त इन निर्देशों का पालन करें:

cooler ki sahi dekhbhal kaise kare

1) कुलर से ठंडी हवा के लिए उसमे पानी डाला जाता है इसलिए ध्यान रखें हर 2-3 दिन पर कूलर का सारा पानी निकाल कर उसे सूखा दें और फिर ताजा पानी भरें।

2) गर्मी के तुरंत बाद बरसात का मौसम शुरू हो जाता है और ऐसे में डेंगू के मच्छरों का प्रकोप फैलने लगता है। इसलिए कूलर की जरूरत नही होने पर उसके पानी को निकाल कर उसे सुखा लें और अगर आप कूलर चलाते भी हैं तो उसके पानी में केरोसिन तेल या पेट्रोल की कुछ बूँदे डाल दें। इससे डेंगू के मच्छर उस पानी में नही पनप पाएंगे।

इसे भी पढें: सावधान! यदि आपको भी बार-बार आता है पैशाब तो हो सकता है ये गंभीर रोग

3) कूलर चलते वक्त उसकी आवाज बहुत तेज होती है जिससे बाहर क्या हो रहा है कुछ पता नही चलता। इसलिए सोने जाने से पहले अपने घर के खिड़की-दरवाजे चेक कर लें कि वो अच्छे से बन्द है या नही। कई बार कूलर की तेज आवाज का फायदा उठाकर चोरों द्वारा चोरी की घटनाएं भी देखने को मिली है।

4) कूलर में पानी डालते वक्त उसका स्विच बन्द रखें या हो सके तो उसका प्लग हीं निकाल दें। अगर प्लग निकालना मुश्किल है तो पैरों में चप्पल पहन कर तब पानी डालें और उस दौरान स्विच बन्द रहना चाहिए। ऐसा नही करने पर करंट लगने का खतरा बना रहता है।

इसे भी पढें: यदि आपकी भी याददाश्त है कमजोर तो जरूर अपनाएं ये ट्रिक्स

5) सर्दियों में कूलर को बंद कर के रखते वक्त उसके पंप अच्छे से साफ कर दें और उसके पंखे में तेल जरूर डालें। उसके बाद उसे कवर से अच्छे से ढक कर रखें।


6) हर सीजन में कूलर की घास जरूर बदलें। हमेशा अच्छी क्वालिटी की घास लगाएं।

7) वैसे तो कूलर को सर्विसिंग की ज्यादा जरूरत नही पड़ती है लेकिन अगर आप इसे लंबे समय तक बचा कर रखना चाहते हैं तो बीच-बीच में इसकी सर्विस जरूर कराएं।

8) अगर आपका कूलर लोहे का है तो उसे हर साल पेंट जरूर करें या कराएं। ऐसा करने से उसमे जंग लगने का खतरा कम हो जाता है।



इसे भी पढें:

loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *