जानिए छुहारे खाने के फायदे और नुकसान के बारे में

Download Our Android App by Clicking on 

छुहारा, खजूर का सूखा हुआ रूप होता है। जैसे अंगूर का सूखा हुआ किशमिश और मुनक्का होता है। खजूर को सुखाने के बाद वह छुहारा बन जाता हैं। यह बहुत हीं शक्तिवर्धक और पौष्टिक होता है। छुहारे का प्रयोग मेवा के रूप में किया जाता है। छुहारा मीठा, रुचिकारक, हृदय के लिए अच्छा, बलदायक, वात पित्त और शराब पीने की वजह से हुए रोगों को नष्ट करने वाला होता है।


कच्चा खजूर ठंडी तासीर का होता है पर सूखने के बाद छुहारा गर्म प्रकृति का हो जाता है। छुहारे खाने की सही विधि ये है – थोड़े से पानी में छुहारे एक घंटा भिगोकर दूध में उबालकर छुहारे खायें और दूध पी जायें। भिगोया हुआ पानी भी दूध में मिला लें। इसके बाद एक घंटा पानी नहीं पियें। छुहारा खाकर दूध पीने के बाद जहाँ तक हो सके, पानी नहीं पियें।


आइए जानते हैं छुहारे खाने के फायदों के बारे में –

छुहारे खाने के

1) रोजाना सुबह शाम 3 छुहारे दूध में उबाल कर खाने से बवासीर, दुर्बलता की शिकायत दूर होती है। शरीर में रक्त संचार की प्रक्रिया भी सुचारू हो जाती है। दूध मे उबाल कर इसको 2 से 3 महीने लगातार खाने पर यह आपका वजन बढ़ाने मे भी मदद करता है।

2) छुहारा कैल्शियम का भी अच्छा स्रोत है इसलिए हड्डियों और दांतों के लिए बहुत लाभकारी होता है।

3) रोजाना दो या तीन छुहारे दूध में पका के पीने से बल और वीर्य की वृद्धि होती है।

4) छुहारे स्वास रोग मे बहूत ही फायदेयंद है क्योकि यह छाती और फेफड़ो को ताकत देने मे मदद करता है। अगर हमारे फेफड़े मजबूत होते हैं तो हमें सांस के रोग कम से कम लगते हैं। और अगर पहले किसी को सांस के रोग है और वह छुहारे का सेवन करते हैं तो उनको इस में बहुत ही फायदा मिलता है।

5) छुहारे रोजाना खाते रहने से बवासीर, कब्ज जैसे रोग दूर रहते हैं। छुहारे और किशमिश मिलाकर खाने से भी कब्ज दूर होती है। 3 छुहारे खाने के बाद 1 ग्लास गरम पानी पीने से आपको बवासीर, कब्ज, और गैस की दिक्कत से छुटकारा मिल जाएगा।

6) लकवे के रोगियों के लिए भी छुहारा एक औषधि है। दूध में 1 से 2 छुहारा भीगोकर खिलाने से लकवे के रोगियों को फायदा मिलता है।

7) जिन लोगो की आवाज साफ़ नहीं निकलती या आवाज में भारीपन आता हो वो लोग अगर रोज छुहारे को दूध में उबाल कर पियें तो आवाज साफ़ होता है। बस ये ध्यान रखें की छुहारे वाला दूध पीने के बाद 2 घंटे तक पानी न पीयें।


8) दमा के रोगी को प्रतिदिन सुबह-शाम 2-2 छुहारे खूब चबा कर खाना चाहिए। इससे फेफड़ों को शक्ति मिलती है और कफ व सर्दी का असर भी कम होता है।

इसे भी पढ़ें: पुराने से पुराने कब्ज को दूर करने के लिए अपनाएं ये घरेलू और आयुर्वेदिक उपाए

9) बच्चे बिस्तर में पेशाब करते हों तो रोजाना रात को कुछ दिन 2 छुहारा खिलायें। बूढ़े आदमी बार-बार पेशाब जाते हों तो रोजाना छुहारे खिलायें। पेशाब बार-बार होने पर दिन में दो बार छुहारे खायें।

10) अगर आपके मसूड़ों से खून या पीव निकलता है तो रोजाना 2 से 4 छुहारो को दूध में उबालकर पियें। इस से मसूड़ों की ये समस्या दूर हो जायेगी।

छुहारे खाने के नुकसान

1) यह ब्लड शुगर लेवेल को बढ़ा देता है। अगर आप शुगर के मरीज हैं और आपका शुगर लेवेल ज्यादा रहता है तो आप इसका सेवन न करें।

2) अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो भी इसका सेवन न करे क्योकि यह आपका वजन बढ़ा सकता है।

3) इसमे फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है तो अगर आप ज्यादा मात्रा मे इसका सेवन करते है तो आपको पेट दर्द की समस्या हो सकती है।

4) कुछ लोगो को इससे एलर्जी भी होती है तो इस चीज का ध्यान मे रख कर ही इसका सेवन करे। अगर आपको इसके सेवन के बाद कोई दिक्कत होती है तो आप इसका सेवन बंद कर दें। क्योंकि यह एलर्जी रिएक्शन हो सकता है। और अगर आपको ऐसा लगता है कि आपको एलर्जी रिएक्शन हुआ है तो आप डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

आपको ये जानकारी कैसी लगी इस बारे में कमेंट कर के जरूर बताएं। हमारे ऐसे हीं जानकारी भरे पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्स्क्राइब करना न भूलें। लाइक करें हमारे Facebook Page को और इससे संबंधित विडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करें हमारे YouTube Channel को।


इसे भी पढ़ें: 

loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *