क्या आप जानते हैं रविवार के दिन सूर्य देवता को जल क्यों चढ़ाया जाता है?


जितना महान और विशाल हमारे भारतवर्ष की भूमि है उतना ही महान यहाँ की संस्कृति और रीति-रिवाज भी हैं। भारत देश में ऐसे कई रिवाज हैं जिनका अपना ख़ास महत्त्व होता है और ये लोगों के लिए आर्थिक और शारीरिक दोनों तौर पर फायदेमंद भी होता है। इन्हीं रिवाजों में से एक है रविवार के दिन सूर्य देवता को जल चढ़ाना। ये एक ऐसा रिवाज है जिसका पालन करने पर इंसान को बहुत सारे फायदे पहुँचते हैं। उन्हीं में से कुछ फायदे हम आपको नीचे बताने जा रहे हैं।

1) रविवार को जल चढाने से सूर्य के कुंडली-दोष से मिलती है छुटकारा

वैसे तो सूरज भगवान को हरेक दिन जलार्पण करना चाहिए लेकिन यदि आप किसी करणवश ऐसा न कर पाएं तो भी कम-से-कम हर रविवार को इन्हें जरूर जल चढ़ाएं। क्योंकि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन जल चढाने से सूर्य के कुंडली दोषों से मुक्ति मिलती है।


2) सूर्य देवता को जलार्पण करने से होता है शारीरिक विकास

जिस सलीके से सुबह-सुबह झुककर सूर्य देवता को जल चढ़ाया जाता है वो शारीरिक स्वास्थ्य में बहुत ही लाभकारी होता है। ऐसा करने से एक तरह से कसरत भी हो जाता है जो शारीरिक विकास में बहुत ही सहायक होता है। संभव हो तो रोजाना अन्यथा हर रविवार को तो सूरज भगवान को जलार्पण जरूर करें।

Bio benefits of Sun
Image Source :- https://commons.wikimedia.org

3) सूरज देबता को जलार्पण करने से होता है मानसिक विकास

चूंकि भगवान सूर्य को जलार्पण करने के लिए सुबह-सुबह ही उठकर बिना खाए-पिए नाहा-धोकर जलार्पण करना पड़ता है इसलिए ये क्रिया मानसिक विकास में भी सहायक माना जाता है। ऐसा करने से न लोगों की बुद्धि ही तेज होती है बल्कि उनकी याददाश्त भी मजबूत होती है और अन्य तरह के मानसिक समस्या से भी छुटकारा मिलती है।

4) सूर्य को जल चढाने से त्वचा में आती है रंगत

जैसा कि खुद विज्ञानं का कहना है कि सूरज के किरणों में विटामिन डी होते हैं और उनका ये भी कहना है कि विटामिन डी से शरीर के त्वचा में रंगत आती है तो ठीक इसी आधार पर जब सूर्य की उपस्थिति में उनके सम्मुख होकर जलार्पण किया जाता है तो ऐसे में ये त्वचा पर भी सकारात्मक प्रभाव डालता है और इससे इंसान में गोरापन आता है।



5) सूर्य को जल चढाने से बढती है दृष्टि क्षमता

ऐसी मान्यता है कि जल चढाते समय सूर्य को सीधे आँखों से देखने के बजाये चढ़ाये जा रहे जल के बीच से देखना चाहिए। ऐसा करने से आँखों पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है उसे ठंडक महसूस होती है। इस पूरे प्रक्रिया के दौरान आँखों की रोशनी बढ़ती है और दृष्टि क्षमता में सुधार आता है।


6) सूर्य को जल चढाने से समाज में प्रतिष्ठा बढती है

ज्योतिष-शास्त्र के अनुसार जो व्यक्ति भगवान सूर्य को नियमित रूप से सच्चे ह्रदय से जल चढाते हैं उनके घर में और पूरे समाज में उनकी प्रतिष्ठा बढती है और और उनकी कृति फैलती है। इतना ही नहीं, ऐसा करने से सूरज भगवान के प्रभाव से लोगों को गरीबी से भी छुटकारा मिलती है और उनका परिवार सदा सुखी रहता है।

हमारे इन न्यूज़ को भी पढ़ें :-

• OMG! तो इस वजह से हनुमान जी का पूरा शरीर होता है लाल

• क्या आप जानते हैं घर के दरवाजे पर निम्बू-मिर्ची क्यों लटकाया जाता है?

• रात के समय भूल कर भी न करें ये 5 काम, हो सकता है भारी नुकसान

• अजब-गजब: हिन्दू तो सबसे ज्यादा हैं भारत में लेकिन इसका ये सबसे बड़ा मंदिर है विदेश में


• क्या आप जानते हैं धार्मिक कार्यों में अगरबत्ती का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

loading…




Leave a Reply