बुध और शुक्रवार को ही बाल कटवाना चाहिए, जानिए इसकी वजह

हिंदू धर्म में दैनिक जीवन से जुड़ी हुई अनेक मान्यताएं और परंपराएं हैं। इन्ही में से कुछ मान्यताएं नाखून, दाढ़ी व बाल कटवाने से जुड़ी हुई है। शास्त्रों के अनुसार सप्ताह के कुछ दिन ऐसे होते हैं जब नाखून, दाढ़ी व बाल कटवाना हमारे लिए शुभ नहीं होता है, जबकि इसके विपरीत कुछ दिनों को इन कामों के लिए शुभ माना गया है।

आइए जानते हैं क्या कहते हैं हमारे शास्त्र-

बाल कटवाना
Source

1) सोमवार – सोम का संबंध चंद्रमा से है इसलिए सोमवार को बाल या नाखून काटना मानसिक स्वास्थ्य और संतान के लिए अच्छा नहीं माना गया है।


2) मंगलवार – वहीं शास्त्रों के अनुसार मंगलवार को बाल कटवाना या दाढी बनाने से व्यक्ति की उम्र कम होती है।


3) बुधवार – शास्त्रों में बुधवार का दिन शुभ माना गया है। इस दिन नाखून और बाल कटवाने से घर में बरकत रहती है और लक्ष्मी का आगमन होता है।

4) गुरूवार – हमारे धर्मग्रन्थों के अनुसार गुरूवार को भगवान विष्णु का दिन माना गया है। इस दिन बाल कटवाने से लक्ष्मी यानि धन का नुकसान और मान-सम्मान की हानि होती है।

5) शुक्रवार – शास्त्रों के अनुसार शुक्र ग्रह ग्लैमर या मान-सम्मान का प्रतीक है। इस दिन बाल और नाखून कटवाने से लाभ धन और यश मिलता है।

6) शनिवार – शनि ग्रह के प्रभाव के कारण शनिवार का दिन बाल कटवाने के लिए अशुभ होता है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन बाल कटवाने से जल्दी मृत्यु हो जाती है।

7) रविवार – महाभारत के अनुशासन पर्व में बताया गया है कि रविवार सूर्य देव का दिन है। इस दिन बाल कटवाने से धन, बुद्धि और धर्म का नाश होता है।

विशेष नोट: ऊपर बताए गए सभी बातें धर्मग्रन्थों और आचार्यों से बातचीत पर आधारित है। इस मामले में सभी की अपनी अलग राय हो सकती है। हम इन बातों को मानने के लिए किसी पर दबाव नहीं डाल रहे हैं।

इसे भी पढें:

Source: DB