गुजरात राज्यसभा चुनाव: पटेल की जीत से कांग्रेस को मिली राहत, शाह और ईरानी भी जीते

गुजरात राज्यसभा चुनाव में 10 घंटे तक चले हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद आखिरकार चुनाव के नतीजे आ ही गए। तीन राज्यसभा सीटों पर हुए चुनाव में बीजेपी ने 2 और कांग्रेस ने 1 सीट जीता है। हालांकि बीजेपी की दोनों सीटों पर जीत पक्की थी, लेकिन देखना ये था कि तीसरी सीट जहाँ से अहमद पटेल उम्मीदवार थे, कौन जीतता है।

बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियों ने इसे नाक की लड़ाई बना लिया था। दोनों पार्टियों की तरफ से चली तमाम गठजोड़ों के बाद अहमद पटेल ने 44 वोटों से तीसरी सीट जीत ली। उन्होने बीजेपी में शामिल हुए कांग्रेस के बागी नेता बलवंत सिंह को हराया। इस चुनाव में अमित शाह को 46 वोट, स्मृति ईरानी को 46 वोट और बलवंत सिंह राजपूत को 38 वोट मिले।

गुजरात राज्यसभा चुनाव
Image Source: News Nation

सुबह से ही चर्चा के केन्द्र में रही तीसरी सीट को जीतने के लिए कांग्रेस ने हरसंभव उपाए कर लिया था। यहाँ तक कि अपने विधायकों को एयरलिफ्ट करा कर बंगलुरू भी पहुँचा दिया था। हालांकि इसके बावजूद भी कांग्रेस को क्रॉस वोटिंग का डर था जो कि बाद में सही साबित हुआ और कांग्रेस के दो विधायकों राघवजी पटेल और भोला भाई ने क्रॉस वोटिंग करते हुए बीजेपी को वोट दिया। लेकिन दोनो विधायकों चुनाव के नियमों का उल्लंघन करते हुए अपना वोट पोलिंग एजेंट से पहले अमित शाह को दिखा दिया जिस कारण मामला बढ गया और कांग्रेस ने इलेक्शन कमीशन का दरवाजा खटखटाया।



इसे भी पढें: 2019 में पीएम मोदी का मुकाबला करने की क्षमता किसी में नहीं: नीतीश कुमार

चुनाव आयोग ने मामले की जाँच करते हुए वोटिंग के दौरान की गई वीडियोग्राफी को चेक किया और उस आधार पर दोनो विधायकों के वोट रद्द कर दिया। चुनाव आयोग ने अपने आदेश में कहा, ‘विडियो देखने से साफ पता चलता है कि कांग्रेस के दोनों बागी विधायकों ने अपने वोट को गुप्त नहीं रखा और इसके साथ उन्होंने बने नियम का उल्लंघन किया।’ चुनाव आयोग का फैसला आने के बाद रद्द किए गए वोटों को अलग करने के बाद रात 12 बजे से वोटों की गिनती शुरू हुई।

गुजरात राज्यसभा चुनाव
Image Source: Google

बता दें कि गुजरात विधानसभा में 182 सीट है लेकिन 6 विधायकों के इस्तीफा देने और 2 विधायकों के वोट रद्द हो जाने के कारण कुल 174 विधायक हीं रह गए थे। अहमद पटेल को जीतने के लिए कुल 174 वैध मतों में से 43.5 वोट चाहिए थे। गुजरात परिवर्तन पार्टी (जीपीपी) के नलिन कोटडिया और जेडी (यू) के छोटू वसावा ने भी क्रॉस वोटिंग करते हुए कांग्रेस को वोट दिया जिससे पटेल ने 44 वोट हासिल कर राज्यसभा में अपनी सीट बरकरार रखी।


जीत के बाद कांग्रेस नेता और और सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल ट्वीट करते हुए कहा, ‘यह केवल मेरी जीत नहीं है। बल्कि यह धनशक्ति, बाहुबल और स्टेट मशीनरी के राज्य मशीनरी का दुरुपयोग की करारी हार है।’ साथ ही पटेल ने उनका साथ देने वाले विधायकों को भी धन्यवाद दिया।

इसे भी पढें:

loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *