IAS Exams Mains: जानिए प्रथम विश्वयुद्ध से संबंधित 15 महत्वपूर्ण तथ्य

युद्ध हमेशा से हीं विनाशक रहा है। अगर यह युद्ध दो बड़े देशों के बीच हो तो और भी ज्यादा विनाश होता है। लेकिन अगर यह विश्वयुद्ध हो तो पूरी दुनिया का अंत होने की नौबत आ जाती है। विश्वयुद्ध में 2 से अधिक देश शामिल होते हैं और जान-माल की अत्यधिक क्षति होती है। हालांकि प्रतियोगी परीक्षाओं में सामान्य ज्ञान के सवाल में प्रथम विश्वयुद्ध से संबंधित प्रश्न भी पूछे जाते हैं। इसलिए आज हम जानेंगे पहले विश्वयुद्ध से संबंधित 15 महत्वपूर्ण तथ्य।


प्रथम विश्वयुद्ध के 15 महत्वपूर्ण तथ्य


प्रथम विश्वयुद्ध
Source

1) प्रथम विश्वयुद्ध की शुरूआत 28 जुलाई 1914 को हूई थी।

2) इस विश्वयुद्ध के के शुरू होने का तात्कालिक कारण ऑस्ट्रिया के राजकुमार फर्डिनेंड की हत्या था। राजकुमार फर्डिनेंड की हत्या बोस्निया की राजधानी सेराजेवो में हुई थी।

3) प्रथम विश्वयुद्ध में 37 देशों ने भाग लिया था जिसमे 7 बड़े देश शामिल थे।

4) विश्वयुद्ध के दौरान पूरी दुनिया मित्र राष्ट्र और धुरी राष्ट्र नाम से दो खेमों में बंट गई थी।


5) धुरी राष्ट्रों का नेतृत्व जर्मनी, ऑस्ट्रिया, हंगरी और इटली कर रहे थे तो मित्र राष्ट्रों का नेतृत्व ब्रिटेन, संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस तथा फ्रांस कर रहे थे।

6) ऑस्ट्रिया, जर्मनी और इटली के बीच त्रिगुट का निर्माण 1882 ईस्वी में हुआ था।

7) प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने रूस पर 1 अगस्त 1914 ईस्वी में आक्रमण किया था।

इसे भी पढें: जानिए अजब सवाल और उनके गजब जवाब

8) जर्मनी ने फांस पर 3 अगस्त 1914 को हमला किया था।

9) 8 अगस्त 1914 को ब्रिटेन प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ।

10) 7 मई 1915 को जर्मनी के यू-बोट द्वारा इंग्लैंड के आरएमएस- लूसीतानिया नामक जहाज को डुबाने के कारण अमेरिका प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ। जहाज पर 1962 लोग सवार थे जिसमे से 1198 लोगों ने अपनी जान गंवाई। इनमे से 128 व्यक्ति अमेरिकी थे।

प्रथम विश्वयुद्ध
Source

11) प्रथम विश्वयुद्ध के समय अमेरिका के राष्ट्रपति वुडरो विल्सन थे। विल्सन ने अमेरिका को प्रथम विश्वयुद्ध से बाहर रखने की हरसंभव कोशिश की थी जिसके लिए 1919 में उन्हे शांति का नोबल पुरस्कार भी दिया गया था।

12) प्रथम विश्वयुद्ध 4 साल बाद 11 नवंबर 1918 को खत्म हुआ।

13) पेरिस शांति सम्मेलन 18 जून 1919 को हुआ जिसमे 27 देशों ने भाग लिया था।

14) 28 जून 1919 को जर्मनी और मित्र राष्ट्रों के बीच वर्साय की संधि हुई जिसके तहत युद्ध के हर्जाने के रूप में जर्मनी से 6 अरब 50 करोड़ डॉलर राशि की मांग की गई थी।

15) प्रथम विश्वयुद्ध जैसा युद्ध दुबारा न हो इस लिए 10 जून 1920 को राष्ट्रसंघ की स्थापना की गई लेकिन ये और बात है कि राष्ट्रसंघ अपने उद्देश्य में सफल नही हो सका।



इसे भी पढें:

loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *